scriptNewzealand Ban Entry of Indian Travellers due to Coronavirus New cases Increased | न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की एंट्री पर लगाई रोक, बताई ये बड़ी वजह | Patrika News

न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की एंट्री पर लगाई रोक, बताई ये बड़ी वजह

न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की एंट्री को किया बैन, न्यूजीलैंड का कोई यात्री भी नहीं जाएगा भारत

नई दिल्ली

Published: April 08, 2021 10:00:33 am

नई दिल्ली। भारत में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) के खतरे ने पूरी दुनिया को सकते में डाल दिया है। इस बीच न्यूजीलैंड ( Newzealand ) से बड़ी खबर सामने आई है। न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों की एंट्री पर रोक लगा दी है।
Newzealand ban Indian travellers
न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की एंट्री पर लगाई रोक
गुरुवार को न्यूजीलैंड की पीएम जेसिंडा अर्डर्न ने इस अस्थायी रोक का ऐलान किया है। जेसिंडा अर्डर्न ने कहा कि 11 अप्रैल से भारत से आने वाले लोगों की एंट्री पर पाबंदी रहेगी।

यह भी पढ़ेँः PM Modi ने लगवाई वैक्सीन की दूसरी डोज, देश में कोरोना के नए मामलों ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड
कोरोना केसों में तेजी से हो रहे इजाफे के चलते न्यूजीलैंड ने बड़ा फैसला लिया है। न्यूजीलैंड ने भारतीय यात्रियों की अपने देश में एंट्री पर रोक लगा दी है। यह प्रतिबंध 11 अप्रैल से प्रभावी होने जा रहा है और आगामी 28 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा।
न्यूजीलैंड के यात्री भी नहीं जाएंगे भारत
न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों पर तो रोक लगाई ही है, साथ ही अपने नागरिकों के भी भारत जाने पर फिलहाल पाबंदी लगा दी है।

इससे पहले भी न्यूजीलैंड कई अन्य देशों के यात्रियों की एंट्री पर रोक लगा चुका है। पहले भी न्यूजीलैंड ने भारतीयों की एंट्री पर रोक का फैसला लिया था, लेकिन फिर उस फैसले को वापस ले लिया गया था।
अब एक बार फिर से नई लहर के चलते यह फैसला लिया गया है। यह रोक 11 अप्रैल को शाम 4 बजे से 28 अप्रैल तक लागू रहेगी।

रिस्क मैनेजमेंट मजबूत करने पर जोर
इस दौरान सरकार यात्रा के दौरान रिस्क मैनेजमेंट को मजबूत करने के लिए काम करेगी। न्यूजीलैंड की ओर से यह अस्थायी बैन ऐसे समय में लगा रहा है, जब बीते कई दिनों से भारत में हर दिन 1 लाख से ज्यादा नए कोरोना केस मिल रहे हैं।
यह भी पढ़ेँः Corona संकट के बीच इन शहरों में आज से नाइट कर्फ्यू, दिल्ली में ई-पास के लिए खारिज हुए इतने हजार आवेदन

आपको बता दें कि भारत में लगातार कोरोना वायरस का खतरा बढ़ रहा है। कई राज्यों ने इससे निपटने के लिए नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन और धारा 144 जैसी कड़ी पाबंदियां लगा दी है। वहीं केंद्र सरकार भी लगातार जरूरी कदम उठाकर कोरोना को काबू करने में जुटी है।
दरअसल देश में रविवार से कोरोना के रोजाना केस 1 लाख से ज्यादा आ रहे हैं। बुधवार को भी देश में 1.26 लाख से ज्यादा नए केस दर्ज किए गए हैं, जो अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। रोजाना के मामलों में भारत ने अमरीका और ब्राजील को भी पीछे छोड़ दिया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.