बार-बार मुंह की खाने के बाद भी नहीं सुधरा पाकिस्तान, रूस और तुकी में फैला रहा है कश्मीर पर झूठ

बार-बार मुंह की खाने के बाद भी नहीं  सुधरा पाकिस्तान, रूस और तुकी में फैला रहा है कश्मीर पर झूठ

  • पुलवामा हमले के बाद दुनिया भर में घिरा पाकिस्तान
  • रूस और तुर्की में अधिक है कश्मीरी युवाओं की उपस्थिति
  • स्थानीय इंटेलिजेंस ने कई पाकिस्तानी आतंकियों की पहचान की है

मास्को। भारत से हर बार मुंह की खाने के बाद भी पाकिस्तान अब बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई अब रूस में अपना झूठ फैलाने की कोशिश कर रहा है। कश्मीर मुद्दे को लेकर पाकिस्तान का कोई खेल सफल होता नजर नहीं आ रहा है। अब पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत विरोधी गतिविधियों का प्रचार करने में जुटी हुई है।

नेपाल ने दिया भारत को झटका, इसलिए चीन से बढ़ा लीं नजदीकियां

बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान

कश्मीर हो या आतंकवाद, हर मुद्दे पर भारत से मुंह की खाने वाला पाकिस्तान अब पूरी दुनिया में अपना झूठ फैलाने की कोशिश कर रहा है।पाकिस्तान अब भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान अब रूस में अपना झूठ बेचने की जुगत में लगा हुआ है। पाकिस्तान, अब रूस में मौजूद अपने इंटेलीजेंस का बदौलत भारत और कश्मीर में भारत के कथित अत्याचार के खिलाफ जमकर दुष्प्रचार कर रहा है।भारतीय खुफिया एजेंसियों ने एक रिपोर्ट दी है, जिसके मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई रूस में मौजूद अपने कुछ निवासियों की मदद से कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत विरोधी गतिविधियों को फैलाने में जुटी है।

चीन ने दिया पाक को करारा झटका, पाकिस्तानी लड़कियों के साथ गलत काम के आरोपों से इनकार

दुनिया भर में हो रही है पाक को लेकर किरकिरी

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान पर अपना शिकंजा कसना शुरू किया है। इस मिशन में भारत को खूब सफलता भी मिली। इसके चलते चीन ने मसूद अजहर पर बैन को हरी झंडी दे दी है। इसके बाद पाकिस्तान बुरी तरह घबरा गया है। अब यू टर्न मारते हुए पाकिस्तान ने इस मामले में भारत को नीच दिखाने के लिए कोई और कसर नहीं छोड़ रहा है। पाकिस्तान तुर्की में भी अपना झूठा प्रचार कर रहा है। पढ़े-लिखे युवाओं को बरगला कर उनको भारत के खिलाफ भड़काने के लिए पाकिस्तान किसी भी हद तक जा सकता है। आपको बता दें कि तुर्की में पढाई के लिए हजारों कश्मीरी युवक रहते हैं। सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि पाकिस्तान, तुर्की में गए कश्मीरी शिक्षकों को इसलिए निशाना बना रहा है ताकि घाटी में अपना गलत प्रचार कायम रख सके।


विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned