George Floyd Death: ट्रंप को ह्यूस्‍टन पुलिस प्रमुख की सलाह, 'कुछ रचनात्मक न हो तो अपना मुंह बंद रखें'

Highlights

  • अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का कहना है कि हिंसा से निपटने में राज्‍यों के गवर्नर अपनी कमजोरी दिखा रहे हैं।
  • ह्यूस्‍टन के पुलिस प्रमुख आर्ट एक्‍वेडो ने उन्‍हें उकसावे वाले बयान न देने की हिदायत दी है।

ह्यूस्‍टन। अमरीका (America) के मिनियापोलिस में अश्वेत की पुलिस हिरासत में मौत के बाद पूरे अमरीका में प्रदर्शन जारी है। हालात इतने खराब हो चुके हैं कि अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) को सेना में तैनात करनी पड़ी है। ट्रंप का कहना है कि कि हिंसा से निपटने में राज्‍यों के गवर्नर अपनी कमजोरी दिखा रहे हैं। ट्रंप के इस बयान के बाद ह्यूस्‍टन के पुलिस प्रमुख आर्ट एक्‍वेडो ने उन्‍हें अपना मुंह बंद रखने की हिदायत दी है।

ह्यूस्‍टन के पुलिस प्रमुख के अनुसार वे देश के पुलिस चीफ की ओर से अमरीका के राष्‍ट्रपति से इतना कहना चाहेंगे कि अगर आपके पास कुछ रचनात्‍मक नहीं है, तो कृपया अपना मुंह बंद रखिए।' इससे पहले ट्रंप कई उकसावे वाले बयान दे चुके हैं। उन्होंने एक जून को राज्‍यों के गवर्नर से बात में कहा था कि वे प्रदर्शनकारियों पर अपना प्रभुत्‍व स्‍थापित करें। उन्‍होंने कहा, 'अगर आप अपना प्रभुत्‍व स्‍थापित नहीं करेंगे तो वे अपना समय बर्बाद कर रहे हैं।'

हिंसा, लूट बर्दाश्त नहीं होगी

इस बीच हत्‍या पर राष्ट्रव्यापी प्रदर्शनों पर वाइट हाउस कार्यालय ने कहा है कि हिंसा, लूट, अराजकता और अव्यवस्था को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वाइट हाउस की प्रेस सचिव कैली मैकनैनी ने सोमवार को बताया कि हम अमरीका की सड़कों पर जो देख रहे हैं, वह अस्वीकार्य है।

ट्रंप ने अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की हिरासत में मौत को लेकर हो रहे प्रदर्शनों में दंगों और लूट का संदर्भ देते हुए कहा कि ये आपराधिक कृत्य प्रदर्शन नहीं हैं, ये अभिव्यक्ति नहीं हैं, ये अपराध हैं। इससे बेकसूर अमरीकी नागरिकों को नुकसान पहुंचा है। फ्लॉयड की मौत के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों की आग अमरीका के 140 शहरों तक पहुंच गई है। इससे देश में पिछले कई दशकों की सबसे खराब नागरिक अशांति माना जा रहा है।

Donald Trump
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned