अमरीका के जाने के बाद इस खास तरीके से तालिबानियों ने मनाई खुशियां, कहा- बधाई हो अब हम आजाद हैं

तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि आज देश पूरी तरह से आजाद हो गया है। अमरीकी सेना की वापसी के बाद आतंकियों ने हवा में ताबड़तोड़ फायरिंग की और कई रॉकेट दागे।

नई दिल्ली। अमरीकी सेना ने तय की गई 31 अगस्त की तारीख से पहले ही अफगानिस्तान को अलविदा कह दिया है। अमरीका की आखिरी सैन्य टुकड़ी रात 12 बजे देश से बाहर निकली और इसके साथ ही तालिबान ने काबुल एयरपोर्ट पर पूरी तरह अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया। अब इस पूरे मुद्दे पर तालिबान ने अपनी पहली प्रतिक्रिया दी है।

तालिबानी आतंकियों ने मनाया जश्न
तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने इस घटना को देश की आजादी करार देते हुए कहा कि आज देश पूरी तरह से आजाद हो गया है। अमरीकी सेना की वापसी के बाद आतंकियों ने हवा में ताबड़तोड़ फायरिंग की और कई रॉकेट दागे। तालिबान की इस तरह फायरिंग करने के बाद आम जनता में डर का माहौल बन गया। इसके बाद तालिबान ने जनता को बताया कि यह हमला नहीं है वरन अमरीका के जाने की खुशी में फायरिंग की जा रही है।

यह भी पढ़ें : तालिबान अमरीकी हथियारों का प्रयोग न कर सकें इसलिए खुद अमरीका ने खराब कर दिए अरबों-खरबों के हथियार

यह भी पढ़ें : UNSC Resolution On Afghanistan : संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने तालिबान पर प्रस्ताव पारित किया, रूस और चीन ने बनाई दूरी

तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि जनता को बधाई हो! अफगानिस्तान की अमरीकी सेना से वापसी हम सबकी जीत है। हम भविष्य में अमरीका से बेहतर कूटनीतिक संबंध चाहते हैं।

वापसी के बाद अमरीकी राष्ट्रपति ने भी दिया बयान
अफगानिस्तान से पूरी तरह निकलने के बाद अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि एशियाई देश में 20 वर्ष की अमरीकी सैन्य मौजूदगी खत्म हो गई है। गत 17 दिनों में अमरीकी सैनिकों ने यूएस के इतिहास में सबसे बड़े एयरलिफ्ट को सफल बनाया है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned