अटल अस्थी कलश यात्रा : भाजपा के इस मंत्री से जब पूछा गया यह सवाल तो ड्राइवर से बोले, ‘जल्दी निकलों यहां से’

अटल अस्थी कलश यात्रा : भाजपा के इस मंत्री से जब पूछा गया यह सवाल तो ड्राइवर से बोले, ‘जल्दी निकलों यहां से’

Rahul Chauhan | Publish: Aug, 25 2018 06:11:41 PM (IST) Moradabad, Uttar Pradesh, India

अटल जी की अस्थियों का स्वागत करने आए योगी सरकार की कैबिनेट के पंचायत राज्यमंत्री भूपेंद्र सिंह ने किया। जब उनसे एक सवाल किया गया तो वह वहां से चले गए।

रामपुर। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 93 वर्ष की आयु में 16 अगस्त 2018 को देहांत हो गया। जिसके बाद उनकी अस्थियों का प्रदेश की सभी नदियों में विसर्जन किया जा रहा है। इसकी के चलते रामपुर जिले में भी अटल जी की अस्थियां पहुंची। जहां भाजपईयों ने फूलों के साथ उनका स्वागत किया। अटल जी की अस्थियों का स्वागत करने आए योगी सरकार की कैबिनेट के पंचायत राज्यमंत्री भूपेंद्र सिंह ने किया। वहीं जब उनसे एक सवाल किया गया तो वह जवाब दिए बिना ही वहां से चले गए।

यह भी पढ़ें : योगी सरकार में सितंबर और अक्‍टूबर में इतने दिन बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय और स्‍कूल, बना लें घूमने का प्‍लान

दरअसल, जिले में एक तरफ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों का स्वागत किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ भाजपा के संस्थापकों में गिने जाने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के आसपास कूड़ा करकट और गंदा पानी भरा हुआ है। जिस पर अभी तक भी किसी की नजर नहीं गई

यह भी पढ़ें : लोगों की मदद करने के बजाए गंगा नदी से बचाए गए पीड़ित को अस्पताल ले जाने से रोकती रही पुलिस

बता दें कि राजधानी दिल्ली से 195 किलोमीटर दूर रामपुर जिले की शुरुआत जिलाधिकारी आवास से होती है। वहीं जिलाधिकारी आवास के बिल्कुल बराबर में ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा लगी हुई है। जिसके आसपास कूड़ा करकट ही नहीं बल्कि बरसात का गंदा पानी भरा रहता है। हर दिन जिलाधिकारी, नगरपालिका के अधिकारी यहां से गुजरते हैं, लेकिन आज तक भी किसी की नजर इस पर नहीं पड़ी।

 

अटल जी की अस्थियों का स्वागत करने आए योगी सरकार की कैबिनेट के पंचायत राज्यमंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि अस्थियां को रामपुर होते हुए मुरादाबाद की रामगंगा नदी में विसर्जित किया जाएगा। वहीं जब उनसे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के आसपास गंदगी के बारे में पूछा गया तो मंत्री जी आग बबूला हो गए। उन्होंने अपने ड्राइवर को कहा आगे कि बढ़ो और वह सवाल का जवाब दिए बिना ही आगे बढ़ गए।

यह भी देखें : पुलिस की संवेदनहीनता आई सामने,लापता लोगो को प्रशासन बचाने में नाकामयाब

वहीं इस पर सपा के दिग्गज नेता आजम खां ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी पहले उनके जीते जी भुनाना चाहती थी और अब वह इस दुनिया में नहीं है तो भी उनके नाम और उनके काम से 2019 के सपने को साकार करने में लगी है। लेकिन उनका यह सपना कभी साकार नहीं होगा।

Ad Block is Banned