scriptMaharashtra Political Crisis: If floor test happens, who will win? | Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट अगर हुआ तो कौन मारेगा बाजी? जानें महाराष्ट्र विधानसभा का पूरा नंबर गेम | Patrika News

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट अगर हुआ तो कौन मारेगा बाजी? जानें महाराष्ट्र विधानसभा का पूरा नंबर गेम

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कल विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है। जिसमें सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे के बीच फ्लोर टेस्ट होना है। राज्यपाल के फ्लोर टेस्ट के आदेश के खिलाफ शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। समझते हैं कि अगर फ्लोर टेस्ट हुआ तो किसकी बनेगी सरकार? महाराष्ट्र विधानसभा के नंबरगेम के हिसाब से क्या उद्धव ठाकरे बचा पाएंगे सरकार?

मुंबई

Published: June 29, 2022 05:15:33 pm

महाराष्ट्र की सियासी जंग और भी गहराता जा रहा है। महाराष्ट्र में उद्धव सरकार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कल फ्लोर टेस्ट के लिए कहा है। इसको लेकर आंकड़ों का गुणा-गणित तेज हो गया है। वहीं दूसरी तरफ शिवसेना ने फ्लोर टेस्ट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख कर लिया है। इसकी सुनवाई थोड़ी देर में होगी।
politics.jpg
Maharashtra Politics
बता दें कि बीजेपी बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की है। फ्लोर टेस्ट की मांग के खिलाफ शिवसेना सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है। वहीं, शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे लगातार अपने समर्थक विधायकों की संख्या अधिक होने का दावा कर रहे हैं। शिंदे का दावा है कि उनके खेमे में 39 विधायक हैं। इसके अलावा 7 निर्दलीय विधायकों ने भी पत्र लिखकर उद्धव सरकार से समर्थन वापस लेने की बात कही है।
यह भी पढ़ें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस बरकरार, सुप्रीम कोर्ट पर टिकी सभी की नजरें; जानें सियासी संग्राम में अब आगे क्या?

महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सदस्य हैं। शिवसेना के एक विधायक के निधन के बाद यह संख्या 287 है। ऐसे में बहुमत बनाने के लिए 144 विधायकों का समर्थन जरूरी है। महा विकास अघाड़ी के पास 169 विधायकों का समर्थन हासिल था। मौजूदा सरकार में शिवसेना के 55, एनसीपी के 53 और कांग्रेस के 44 विधायक शामिल थे। इसके अलावा सपा के 2, पीजीपी के 2, बीवीए के 3 और 9 निर्दलीय विधायकों का समर्थन भी सरकार के पास था। लेकिन शिवसेना में हुई बगावत ने ये सारा गणित बदल गया हैं। शिवसेना विधायकों का समर्थन खोने के बाद अल्पमत में आ चुकी है।
अब शिवसेना के 39 विधायक अब अलग होने का दावा कर रहे हैं, सरकार में मौजूद दो विधायक कोरोना पॉजिटिव हैं, जबकि सहयोगी एनसीपी के दो विधायक जेल में हैं। इसके अलावा प्रहार पार्टी के दो और 7 निर्दलीय विधायक भी महाविकास अघाड़ी सरकार से दूरी बनाने का फैसला कर लिया हैं। यानी कुल मिलाकर 52 विधायकों का हिसाब-किताब गड़बड़ा गया है।
दूसरी तरफ, विपक्षी दल बीजेपी के पास अपने विधायकों की संख्या 106 है। इसके साथ आरएसपी के 1, जेएसएस के 1 और 5 निर्दलीय विधायक पहले से बीजेपी के साथ है। बीजेपी के पास कुल 113 विधायकों का समर्थन है। अगर शिंदे खेमे को फ्लोर टेस्ट में वोटिंग से रोक दिया जाता है और निर्दलीय उद्धव सरकार से किनारा कर लेते हैं तो बहुमत के आंकड़ों को बीजेपी आसानी से हासिल कर लेगी। क्योंकि तब बहुमत के लिए केवल 121 विधायकों का समर्थन की जरूरत होगी। ऐसी स्थिति में बीजेपी के 113 विधायकों के साथ 16 निर्दलीय और अन्य विधायक भी बीजेपी को अपना समर्थन देने के लिए तैयार हैं।
एक रास्ता यह भी है कि शिंदे खेमे के पास दो-तिहाई विधायक हैं, इसलिए उनके खिलाफ दल-बदल कानून के तहत कोई कार्रवाई नहीं हो सकती। ऐसे में बीजेपी का रास्ता उन्होंने और आसान कर दिया है। और वे सीधा नई सरकार में शामिल हो सकते हैं। अब ये देखने वाली बात होगी कि नंबरगेम किस तरफ करवट लेता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने केद्र सरकार पर लगाया आरोप, कहा - मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसCoal Scam: कोयला घोटाले मामले में ED ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस ऑफिसर को जारी किया समनजम्मू-कश्मीर के रामबन में लैंडस्लाइड व बादल फटने से दो लोगों की मौत, हिमाचल के कुल्लू में कई दुकानें बहींVP Jagdeep Dhankhar: 'किसान पुत्र' जगदीप धनखड़ ने ली उपराष्ट्रपति पद की शपथ, झुंंझुनू सहित पूरे राजस्थान में जश्न का माहौलMaharashtra: महाराष्ट्र में स्टील कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, करोड़ों रुपये कैश सहित बेनामी संपत्ति जब्तJammu-Kashmir: उरी जैसे हमले की बड़ी साजिश हुई फेल, Pargal आर्मी कैंप में घुस रहे 3 आतंकी ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.