प्रदूषण से निपटने के लिए मुजफ्फरनगर में तैयार की गई एंटी स्मॉग गन

  • एनजीटी के आदेशों के बावजूद NCR में खूब चले पटाखे
  • पटाखे चलाने से एनसीआर में बढ़ा प्रदूषण
  • अब प्रदूषण पर वार करेगी एंटी स्मॉग गन

By: shivmani tyagi

Published: 15 Nov 2020, 10:11 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
मुजफ्फरनगर. एनजीटी के आदेशों के बाद एनसीआर में जमकर आतिशबाजी हुई। पटाखों से काफी प्रदूषण हुआ है अब इस प्रदूषण पर वार करने के लिए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने एंटी स्मॉग गन तैयार की है।

यह भी पढ़ें: खाकी की गरिमा तार-तार: दिवाली पर नशे में धुत दरोगा का वीडियो वायरल एसएसपी ने किया सस्पेंड

दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण ने पटाखों की बिक्री और पटाखे चलाने पर रोक लगाई थी लेकिन रोक के बावजूद दिवाली में यहां जमकर आतिशबाजी हुई। आतिशबाजी का असर अब पर्यावरण में दिखाई दे रहा है। मेरठ गाजियाबाद, नोएडा समेत मुजफ्फरनगर तक हवा में प्रदूषण हो गया है। आतिशबाजी से हुए इस प्रदूषण से निपटने के लिए मुजफ्फरनगर क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने एंटी स्मॉग गन तैयार की है। अब इस एन्टी स्मॉग गन को शहर के प्रमुख चौराहों पर चलाया जाएगा। क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी अंकित सिंह का दावा है कि इस गन से वायु को शुद्ध किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: साैहार्द का संदेश: मुस्लिम इंस्पेक्टर ने थाने में मनाई दिवाली पत्नी संग की लक्ष्मी-गणेश की पूजा

आतिशबाजी से मुजफ्फरनगर में हालात काफी चिंताजनक बने हैं और यहां पर पीएम का स्तर 262 प्रति घन मीटर तक पहुंच गया है। इसी स्थिति को देखते हुए यह एंटी स्मॉग बनाई गई है। इस इस गन को शहर के प्रमुख चौराहों पर और उन स्थानों पर चलाया जाएगा जहां पर अधिक भीड़ रहती है, अधिक चहल-पहल रहती है। उन्होंने बताया कि यह एन्टी स्मॉग गन एक तरह से वायु को साफ करती है और वायु में प्रदूषण को कम करती है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned