बड़ी खबरः भाजपा के खिलाफ वेस्ट यूपी के इस जिले में लगाये एेसे पोस्टर, नेताआें को दी यह सजा-देखें वीडियो

बड़ी खबरः भाजपा के खिलाफ वेस्ट यूपी के इस जिले में लगाये एेसे पोस्टर, नेताआें को दी यह सजा-देखें वीडियो

Nitin Sharma | Publish: Nov, 29 2018 05:25:36 PM (IST) Muzaffarnagar, Muzaffernagar, Uttar Pradesh, India

प्रदेश सरकार समेत भाजपा नेताआें के खिलाफ की नारेबाजी

मुजफ्फरनगर।देश में जहां राजनीतिक पार्टियां लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों में जुट गई है।वहीं देश के आम नागरिक भी नेताओं से दो-दो हाथ करने को तैयार नजर आ रहे हैं।इसकी वजह चुनाव से पहले नेताओं द्वारा किये जाने लंबे चौड़े वादों को बाद उन्हें भूल जाना है।इसी को लेकर पश्चिम उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में विकास कार्य ना होने और अन्य समस्याओं को लेकर मोहल्ले वासी सत्ताधरी पार्टी भाजपा और भाजपा नेताओं से खासे नाराज दिखाई दे रहे है।जिसके बाद मोहल्ला जनकपुरी के बाद अब थाना नगर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला रामपुरी वासियों ने भी भाजपा नेताओं के खिलाफ पोस्टर वार शुरू कर दिया है। इतना ही नहीं उनके मोहल्ले में घुसने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।साथ ही जगह जगह चेतावनी भी दी गर्इ है।

 

लोकसभा चुनाव नजदीक आने पर खड़ी हो सकती है समस्या

जैसे जैसे 2019 के लोकसभा चुनाव 2019 नजदीक आ रहे हैं। वैसे ही आम लोगों की सत्ताधारी पार्टी भाजपा व उसके नेताओं से नाराजगी बढ़ती जा रही है।जहां पिछले हफ्ते नगर पालिका प्रशासन से नाराज थाना सिविल लाइन क्षेत्र के मोहल्ला जनकपुरी के निवासियों ने मोहल्ले में बीजेपी नेताओं के घुसने पर प्रतिबंध लगाया था।वहीं अब एक बार फिर दूसरे गांव में भाजपा के खिलाफ लोगों की पंचायत बैठ गर्इ।यहां मोहल्ले में पंचायत कर पूरे मोहल्ले में भाजपा नेताओं के गांव में घुसने पर प्रतिबंध के पोस्टर तक लगा दिए है।जनकपुरी का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि अब मोहल्ले में विकास कार्य ना होने से नाराज थाना नगर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला रामपुरी के वासियों ने भी मोहल्ले में भाजपा नेताओं के घुसने पर प्रतिबंध लगाते हुए मोहल्ले में बैनर लगा दिए हैं।

यह भी पढ़ें-Video: लड़कियों के हाथ में मोबाइल देख शातिर कर देते थे एेसा कांड, पुलिस के हत्थे चढ़े तो खोला राज

इन समस्याआें के खत्म न होने पर उठाया यह कदम

वहीं रामपुरी मोहल्ले के लोगों ने बताया कि यहां दर्जनों रास्ते ऐसे हैं, जो अभी तक बनाए भी नहीं गए हैं। इनमें कीचड़ और पानी भरा रहता है।इस मोहल्ले के वासियों ने पहले भी कई बार इन रास्तों को बनाने की मांग उठाई है।लेकिन उनकी अभी तक सुनवाई नहीं हुई बरसात में तो बच्चों का स्कूल जाना भी दूभर हो जाता है।अब मौका चुनाव का है, तो जनता ने भी अपना कड़ा रुख दिखाना शुरू कर दिया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned