बड़ी खबर: BJP विधायक Sangeet Som को लेकर शासन ने लिया बड़ा फैसला, मुकदमों की रिपोर्ट मांगी- देखें वीडियो

बड़ी खबर: BJP विधायक Sangeet Som को लेकर शासन ने लिया बड़ा फैसला, मुकदमों की रिपोर्ट मांगी- देखें वीडियो

sharad asthana | Publish: Aug, 14 2019 10:13:29 AM (IST) | Updated: Aug, 14 2019 10:14:22 AM (IST) Muzaffarnagar, Muzaffernagar, Uttar Pradesh, India

खास बातें-

  • मुजफ्फरनगर में संगीत सोम के खिलाफ दर्ज हैं 4 मुकदमे
  • 13 बिन्दुओं पर प्रशासन से मांगी गई आख्या
  • संगीत सोम ने कहा- उनको नहीं है इसकी कोई भी जानकारी

 

मुजफ्फरनगर। भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) के विधायक संगीत सोम को लेकर शासन ने बड़ा फैसला लिया है। उन पर मुजफ्फरनगर में दर्ज मुकदमों के बारे में जानकारी मांगी गई है। जिला प्रशासन का कहना है क‍ि शासन का पत्र मिला है। मुजफ्फरनगर प्रशासन को भेजे पत्र में संगीत सोम के मुकदमों को लेकर 13 बिंदुओं पर आख्या मांगी गई है।

यह भी पढ़ें: डॉक्‍टरों ने सर्जरी के बाद जोड़ा BJP प्रदेश अध्‍यक्ष Swatantra Dev Singh का यह अंग

वापस हो सकते हैं मुकदमे

इसके बाद माना जा रहा है क‍ि संगीत साेम पर मुजफ्फरनगर में दर्ज मुकदमे वापस हो सकते हैं। मुजफ्फरनगर में संगीत सोम के खिलाफ 4 मुकदमे दर्ज हैं। इनको लेकर जिला प्रशासन जल्‍द शासन को आख्‍या भेज देगी। इस मामले में जानकारी देते हुए एडीएम-ई अमित कुमार सिंह ने बताया कि शासन से जो पत्र आए हैं, उसमें एक मुकदमा 2009 और एक 2013 का है। उस संबंध में मुकदमे वापसी की आख्या मांगी जाती है। इसमें 13 बिन्दुओं पर आख्या मांगी गई है। ये पत्र हमें आज ही मिला है। इसे डीएसपी क्रिमिनल को भेजा जा रहा है। इसके बाद इसे डीएम और एसएसपी द्वारा शासन को भेजा जाएगा। इसमें कोर्ट में चल रहे मुकदमाें का स्टेटस मांगा गया है।

यह भी पढ़ें: Bakrid के दिन AIMIM के पूर्व पदाधिकारी ने इस वजह से बदला धर्म, Imran Khan से बन गया राम

यह कहा संगीत सोम ने
आपको बता दें क‍ि सरधना विधायक संगीत सोम पर वर्ष 2003 से 2017 के बीच मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, मेरठ और गौतमबुद्धनगर में कुल सात मुकदमे दर्ज हैं। भाजपा विधायक संगीत सोम का कहना है क‍ि सपा और बसपा सरकार में राजनीतिक साजिश के तहत उन पर मुकदमे दर्ज किए गए थे। उनका कोई औचित्य नहीं है। उन्‍होंने कहा कि मुजफ्फरनगर में 2013 में आईटी एक्ट में दर्ज मामले में सासबूत नहीं होने के कारण पुलिस चार्जशीट भी दाखिल नहीं कर पाई है। पैदल मार्च निकालने पर भी केस दर्ज कर दिए गए। बाकी शासन की कार्रवाई की उनको जानकारी नहीं है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned