Big Breaking- मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के बाद अब सुनील राठी ने दी इस कुख्‍यात की सुपारी

Big Breaking- मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के बाद अब सुनील राठी ने दी इस कुख्‍यात की सुपारी

sharad asthana | Publish: Aug, 12 2018 01:25:54 PM (IST) Muzaffarnagar, Uttar Pradesh, India

शामली में पुलिस मुठभेड़ में घायल हुआ सुनील राठी का शार्प शूटर, बैंक लूटने जा रहा था रुड़की

शामली। बागपत जेल में मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के बाद एक और कुख्‍यात बदमाश की हत्‍या की योजना बना रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। इस कुख्‍यात का वेस्‍ट यूपी समेत आसपास के गई राज्‍यों में आतंक है। पुलिस के मुताबिक, मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के मुख्‍य आरोपी सुनील राठी ने ही इन बदमाशों को इस काम की सुपारी दी थी। ये सुनील राठी गैंग के ही शार्प शूटर बताए जा रहे हैं। आपको बता दें क‍ि 9 जुलाई को बागपत जिला जेल में माफिया डॉन मुन्‍ना बजरंगी की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। इसमें सुनील राठी ने हत्‍या करना स्‍वीकार किया है।

यह भी पढ़ें: इस कुख्‍यात पर लगा मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या का आरोप, जानिए कौन है वह

देर रात हुई मुठभेड़

शामली में शनिवार देर रात करीब एक बजे पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। इसके जरिए पुलिस ने बैंक लूट और हत्या की वारदात को नाकाम कर दिया। बदमाश बैंक लूट और बागपत के कुख्यात बदमाश धर्मेंद्र किरठल की हत्या को अंजाम देने जा रहा था। पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान एक सुपारी किलर सहित दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की गोली पैर में लगने से सुपारी किलर गंभीर रूप से घायल हो गया है, जबकि बदमाशों से लोहा लेते हुए एक सिपाही के भी पैर में गोली लगी है। घायल बदमाश व सिपाही को कांधला सीएचसी में भर्ती कराया गया है, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को हायर सेंटर मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: पूर्वांचल के डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में हत्या, जेलर व डिप्टी जेलर समेत 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

20 मिनट तक चली गोलियां

दरअसल, मामला कांधला थाना क्षेत्र के गांव किवाना के जंगल का है। वहां पर शनिवार देर रात को पुलिस ने चेकिंग के दौरान बिना नंबर प्लेट की कार को रोकने का इशारा किया, लेकिन बदमाशों ने गाड़ी की स्पीड और बढ़ा दी। वे पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर मौके से भागने लगे। पुलिस ने बदमाशों का पीछा करना शुरू कर दिया। खुद को घिरा देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। इसके जवाब में पुलिस ने भी बदमाशों पर जवाबी फायरिंग की। इस बीच दोनों ओर से करीब 20 मिनट तक कई राउंड गोलियां चलीं।

यह भी पढ़ें: मुन्‍ना बजरंगी के हत्‍यारोपी सुनील राठी की मां ने इस बड़ी पार्टी के टिकट पर लड़ा था पिछला विधानसभा चुनाव

बैंक लूट के बाद करनी थी हत्‍या

इसमें से एक गोली बदमाश के पैर में जा लगी, जबकि दो बदमाश मौके से ही गिरफ्तार कर लिए गए। घायल बदमाश का नाम अंकित उर्फ काला है। वह हरियाणा के सोनीपत शहर का निवासी है। बताया जा रहा है कि अंकित लूट, हत्या अौर डकैती की कई वारदातों में वांछित चल रहा था। शनिवार देर रात अंकित अपने दो साथियों के साथ शामली से होते हुए रूड़की जा रहा था। वहां पर उन्हें बैंक लूट करनी थी। इसके बाद उन्‍हें बागपत के गांव किरठल निवासी कुख्यात बदमाश धर्मेंद्र किरठल की हत्या की वारदात को अंजाम देना था।

यह भी पढ़ें: मुन्ना बजरंगी को मारने वाले कुख्यात सुनील राठी की जेल में हमला

एके-47 खरीदने का था प्‍लान

पुलिस की गिरफ्त में आए अंकित का कहना है कि वह सुपारी लेकर हत्या की वारदातों अंजाम देता है। व‍ह कल बैंक लूट करता और लूटे गए पैसों से A-K 47 खरीदता। इसके बाद उसको धर्मेंद्र किरठल की हत्या को अंजाम देना था। पकड़ा गया शार्प शूटर अंकित ने अमित भूरा से अपने संबंध बताए। अमित भूरा सुनील राठी गैंग का शूटर है।

यह भी पढ़ें: मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, जांच में इन पांच अधिकारियों के नाम आए सामने

भारी मात्रा में हथियार मिले

इस मामले में एसपी दिनेश कुमार का कहना है कि बदमाश शामली के रास्ते रुड़की में बैंक डकैती की वारदात को अंजाम देने के लिए जा रहे थे। वहां से वह रुपए लूटने के बाद एके-47 खरीदते। इसके बाद उनकी योजना वेस्ट यूपी के चर्चित बदमाश धर्मेंद्र किरठल की हत्या करने की थी। मुठभेड़ में एक सिपाही भी गोली लगने से घायल हुआ है। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से एक कार व भारी मात्रा में असलाह बरामद कर लिया है।

यह भी पढ़ें: पूर्व DGP सुलखान सिंह ने किया बड़ा खुलासा, इस वजह से जेल में हुई मुन्ना बजरंगी ही हत्या

गैंगवार की आशंका

वहीं, इन बदमाशों के पकड़े जाने के बाद गैंगवार की आंशका को बल मिल रहा है। सुनील राठी ने बागपत जिला कारागार में पूर्वांचल के डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी थी। बताया जा रहा है क‍ि अब वेस्‍ट यूपी में सुनील राठी अपने गुर्गों से विपक्षी बदमाशों का खात्मा कराने की ताक में है।

Ad Block is Banned