Video : मकराना, डीडवाना व नावां में भारी बारिश, खेत बने तालाब, पटरियों से नीचे से मिट्टी का कटाव

नागौर व खींवसर तहसीलों के लोग बारिश का तरसे, डीडवाना, नावां, लाडनूं व कुचामन तहसीलों में भी अच्छी बारिश

By: shyam choudhary

Updated: 31 Jul 2021, 09:39 PM IST

नागौर. नागौर जिले की मकराना, नावां व डीडवाना तहसीलों में शुक्रवार रात व शनिवार दिन में इंद्र भगवान जमकर मेहरबान हुए। मकराना में 9 इंच से अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई है। वहीं डीडवाना में 172 एमएम तथा नावां 128 एमएम बारिश हुई है।

पिछले 24 घंटों में हुई तेज बारिश से खेतों में पानी भरने से खेत तालाब का रूप ले चुके हैं, वहीं फुलेरा-डेगाना रेलमार्ग में कई जगह पटरियों के नीचे से मिट्टी का कटाव होने से शनिवार को रेल यातायात प्रभावित रहा। हालांकि रेलवे अधिकारियों व कर्मचारियों ने तत्काल कार्रवाई करते हुए मिट्टी का भराव करवाकर यातायात को सुचारू करवाया।

इधर, जिला मुख्यालय नागौर सहित खींवसर, मूण्डवा, जायल, रियां बड़ी तहसील क्षेत्रों में बारिश नहीं होने से किसान व आमजन परेशान हैं। नागौर व खींवसर में तो शनिवार तक एक एमएम बारिश भी नहीं हो रही है।

बूड़सू सहित आसपास के ग्रामीण इलाके में तेज बारिश
बूड़सू कस्बे सहित आसपास के ग्रामीण इलाके में शुक्रवार रात्रि में बारिश का दौर शुरू हुआ, जो शनिवार शाम तक बारिश जारी रही। लगातार बारिश होने से शनिवार सुबह 6 बजे ही ग्राम की बिजली बंद हो गई, जो शाम तक सुचारू नहीं हुई। बिजली बंद होने से बीएसएनएल सहित अन्य मोबाइल सेवा ठप रही। बरसात दौर कभी तेज कभी धीरे दिनभर जारी रहा। लगातार बारिश होने से गांव में काफी मकानों में दरारें आ गई। तेज बारिश से बाजार पूरे दिन बंद रहे। श्रावण माह की पहली बारिश होने से किसानों के चेहरे खिल उठे। खेत भी बरसात के पानी से जलमग्न हो गए। तेज बारिश होने से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की चार दीवारी टूट गई, जिससे सडक़ भी बह गई।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned