समता आंदोलन समिति के आह्वान पर भारत बंद

समता आंदोलन समिति के आह्वान पर भारत बंद

Jyoti Patel | Publish: Sep, 06 2018 12:17:53 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

नगाौर. एससी-एसटी एक्ट व आरक्षण के विरोध में गुरूवार को नागौर जिला मुख्यालय सहित जिलेभर के प्रमुख कस्बों में भारत बंद का असर देखा जा रहा है। जिला मुख्यालय पर व्यापारियों ने स्वैच्छा से बाजार बंद रखे हैं, जबकि कुछ लोगों ने बंद को समर्थन देने की बजाय इक्का-दुक्का दुकानें खोली हैं। नागौर में समता आंदोलन समिति के आह्वान पर भारत बन्द के समर्थन में नागौर शहर भी बन्द रखा जा रहा है। समिति के जिला सचिव आनन्द पुरोहित ने बताया कि अनुसूचित जाति -जनजाति अत्याचार कानून के कठोर प्रावधानों के अन्तर्गत मात्र एक शिकायत पर किसी भी व्यक्ति को दोषी मानकर गिरफ्तार करना और उसकी जमानत नहीं होना, 70 साल से चली आ रही जातिगत आरक्षण व्यवस्था की समीक्षा की मांग को लेकर गुरुवार को सुबह 10 बजे से दोपहर साढ़े 4 बजे तक नागौर बन्द का आह्वान किया गया है।

केन्द्र सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के संविधान सम्मत निर्णय को पलट कर काला कानून पारित किया है, जिसका विरोध सम्पूर्ण भारत सहित नागौर में भी किया जा रहा है। बंद को विभिन्न सामाजिक और व्यापारिक संगठनों ने समर्थन दिया है। वहीं जिले मौलासर कस्बे में सर्व समाज के आह्वान पर जरूरी सेवाओं व मेडिकल की दुकानें भी बन्द है। हालांकि सुबह-सुबह एससी-एसटी वर्ग के कुछ लोगों ने दुकानें खोली, जिसको लेकर एक बार माहौल बिगडऩे लगा, लेकिन समझाइश के बाद स्थिति सामान्य हो गई। इसी प्रकार बोरावड़ में भी बंद को लेकर हल्का विवाद हुआ। प्रतिष्ठान खोलकर बैठे व्यापारियों ने व्यापार मण्डल अध्यक्ष पर बंद की पूर्व सूचना नहीं देने का आरोप लगाया है। लोगों के आग्रह के बाद व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान स्वैच्छा से बंद कर लिए। लाडनूं में व्यापारियों ने पूरी तरह बंद रखा है। बूड़सू कस्बे में एससी- एसटी एक्ट के विरोध में भारत बंद को लेकर कस्बे के सम्पूर्ण रूप से बाजार बन्द किए गए हैं। डेगाना शहर सहित गांवों में भी भारत बंद का असर देखा जा रहा है। दोपहर में दुकानदार एसडीएम के नाम ज्ञापन देंगे।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned