scriptchirag paswan first reaction on nitish kumar after meeting amit shah amid speculation on jdu bjp alliance again in bihar | सियासी हंगामे के बीच अमित शाह से मिले चिराग पासवान, नीतीश को लेकर कही ये बात | Patrika News

सियासी हंगामे के बीच अमित शाह से मिले चिराग पासवान, नीतीश को लेकर कही ये बात

locationनई दिल्लीPublished: Jan 27, 2024 03:58:41 pm

Submitted by:

Paritosh Shahi

बिहार में चल रही सियासी उथल पुथल के बीच एनडीए में शामिल चिराग पासवान ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

amit_shah_chirag_paswan.jpg

बिहार की राजनीति एक बार भी सुर्खियों में है। पिछले 36 घंटे से खबर आ रही है कि नीतीश कुमार कभी भी पलटी मार बीजेपी के साथ जा सकते हैं। नीतीश कुमार और राजद के बीच मची कलह की वजह से राजनीतिक गलियारों में हंगामा मचा हुआ है। इस बीच एनडीए में शामिल लोकजनशक्ति पार्टी (रामविलास) के सुप्रीमो चिराग पासवान ने दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है। मुलाकात ख़त्म होने के बाद चिराग ने कहा कि हमारे बहुत सारे कंसर्न थे, जिसको लेकर हम आज अमित शाह से मिले।

 

करीब आधे घंटे तक चली ये मुलाकात

अमित शाह और चिराग पासवान के बीच यह मुलाकात करीब आधे घंटे तक चली। मुलाकात खत्म होने के बाद चिराग ने कहा, 'बिहार की स्थिति पर नजर है। जब तक स्थिति स्पष्ट नहीं होती, हम अपनी बात या फाइनल स्टैंड नहीं रख सकते। नीतीश कुमार का अभी फाइनल होने दीजिए कि वो कहां रहेंगे। अभी तो वो महागठबंधन के सीएम हैं। अभी इस्तीफा तो दिया नहीं है।'

इंडिया अलायंस से नाराजगी की वजह

सूत्रों के मुताबिक नीतीश कुमार को लगा रहा था कि जो इंडिया अलायंस उन्होंने दिन रात एक करके बनाया, अलग अलग विचारधारा के दल को एक प्लेटफॉर्म में साथ लाया, इसलिए उन्हें इस गठबंधन का संयोजक बनाया जाए। कई बैठक के बाद भी उन्हें संयोजक नहीं बनाया गया। सीट शेयरिंग को लेकर भी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पा रही थी। बिहार में बढ़ रहे आपराधिक मामले नीतीश कुमार की सुशासन की छवि को धूमिल कर रहे थे। लेकिन नीतीश का सब्र उस वक्त जवाब दे गया जब लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने एक के बाद एक तीन ट्विट कर दिया।

रोहिणी आचार्य ने बिना नाम लिए एक्स पर पोस्ट किया, "कुछ लोग खुद को समाजवादी दिग्गज घोषित करते हैं, लेकिन उनकी विचारधारा हवा की तरह बदल जाती है।" दूसरे ट्विट में लिखा, ''गुस्सा दिखाने से कोई मदद नहीं मिलेगी, क्योंकि उनमें से कोई भी इतना योग्य नहीं है कि उनकी विरासत को आगे बढ़ा सके। उनके इरादे ठीक नहीं हैं।" और अंतिम ट्विट में लिखा, ''कुछ लोग अपनी कमियों पर आत्ममंथन नहीं करते और दूसरों पर कीचड़ उछालते हैं।''

जब नीतीश को पता चला तो उन्होंने तुरंत संज्ञान लिया जिसके बाद रोहिणी ने पोस्ट डिलीट कर लिया। अब खबर है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार शाम को अपना इस्तीफा दे सकते हैं और रविवार को आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो