scriptKnow Why Pallonji Mistry Called As Phantom Of Bombay House | जानिए क्यों ' मुंबई के फैंटम' के नाम से मशहूर थे अरबपति कारोबारी पालोनजी मिस्री | Patrika News

जानिए क्यों ' मुंबई के फैंटम' के नाम से मशहूर थे अरबपति कारोबारी पालोनजी मिस्री

शापूरजी ग्रुप के चेयरमैन पालोनजी मिस्त्री का 93 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। पालोनजी अरबपति कारोबारी होने के बाद भी काफी लो प्रोफाइल ही रहे। शायद यही वजह है कि इन्हें गुमनाम अरबपति कारोबारी भी कहा जाता था, क्योंकि वे सार्वजनिक जगहों पर ना तो जाते थे और ना ही कारोबारी बैठकों में कभी दिखे। बावजूद इसके उन्हें मुंबई के फैंटम के रूप में मशहूर थे।

नई दिल्ली

Published: June 28, 2022 05:37:01 pm

शापूरजी समूह के चेयरमैन और दिग्गज कारोबारी पालोनजी मिस्त्री अब इस दुनिया में नहीं रहे। पालोनजी मिस्त्री की गितनी भले ही अरबपतियों में की जाती रही हो, लेकिन वे कभी भी हाईप्रोफाइल रहना पसंद नहीं करते थे। यही वजह है कि पालोनजी मिस्त्री को गुमनाम अरबपति कारोबारी भी कहा जाता था। क्योंकि ना तो वो सार्वजनिक जगहों पर दिखते थे और ना ही लाइमलाइट में रहने की आदत थी। हालांकि लो प्रोफाइल रहने के बाद भी कारोबारियों के बीच वे फैंटम ऑफ बॉम्बे हाउस के रूप में मशहूर थे। इसके पीछे भी दिलचस्प वजह, जिसके चलते उन्हें फैंटम के नाम से बुलाया जाता था।
Know Why Pallonji Mistry Called As Phantom Of Bombay House
Know Why Pallonji Mistry Called As Phantom Of Bombay House
इस वजह से कारोबारी बुलाते थे फैंटम
दरअसल पालोनजी मिस्त्री का टाटा समूह के मुंबई स्थित मुख्यालय 'बॉम्बे हाउस' में खास रुतबा था। उनकी धमक ऐसी थी जब भी वे यहां आते तो सबके कद छोटे पड़ जाते हैं। यही वजह है कि, उनके रुतबे को देखते हुए उन्हें 'फैंटम' के नाम से जाना जाता था।

टाटा समूह के मामलों पर उनके अप्रत्यक्ष प्रभाव के लिए उन्हें अक्सर फैंटम ऑफ बॉम्बे हाउस (बॉम्बे हाउस के प्रेत) के रूप में जाना जाता था।

यह भी पढ़ें

दिग्गज कारोबारी पालोनजी मिस्त्री का निधन, 93 वर्ष की उम्र में ली अंतिम सांस

पालोनजी मिस्त्री का जन्म 1929 में भारत में एक पारसी परिवार में हुआ था। उन्होंन उच्च शिक्षा के लिए लंदन के इंपीरियल कॉलेज जाने से पहले मुंबई के कैथेड्रल और जॉन केनन स्कूल में पढ़ाई की।

पालोनजी के करियर की शुरुआत 18 साल की उम्र में पारिवारिक बिजनेस से ही हो गई। 1865 में स्थापित अपनी पिता की कंपनी के लिए उन्होंने कई देशों में सेवाएं दीं।

1970 के दशक में उन्होंने मध्य पूर्व के देशों, अबू धाबी, दुबई और कतर तक अपने व्यापार को फैलाया। उनकी कंपनी ने ओमान के सुल्तान के महल के साथ बहुत सी VIP इमारतों का निर्माण किया।
मुगलेआजम से खास कनेक्शन
हिंदी फिल्म इतिहास में अपनी अमिट छाप छोड़ गई फिल्म मुगल-ए-आजम से भी पालोनजी मिस्त्री का खास कनेक्शन है। दरअसल शापूरजी पल्लोनजी समूह ने के.आसिफ की प्रतिष्ठित हिंदी फिल्म 'मुगल-ए-आजम' (1960) के निर्माण में भी अहम भूमिका निभाई। यह अपने समय की सबसे महंगी फिल्म थी।
एक लाख से ज्यादा संपत्ति खर्च नहीं कर सकता परिवार
टाटा ग्रुप की होल्डिंग कंपनी टाटा संस में बड़ी हिस्सेदारी रखने वाले शापूरजी पैलोनजी ग्रुप के चेयरमैन पैलोनजी शापूरजी मिस्त्री 1 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की अपनी ही संपत्ति खर्च नहीं कर सकते। दरअसल टाटा सन्स के साथ उनकी संपत्ति का 84 फीसदी हिस्सा कानूनी विवाद में फंसा है।

यह भी पढ़ें

Startup World में भारत के पांच शहरों ने मचाई धूम, दिल्ली-मुंबई से आगे निकला ये शहर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra Cabinet Expansion: कल हो सकता है शिंदे मंत्रिमंडल का विस्तार, CM के आवास पहुंचे देवेंद्र फडणवीस'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारीगालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेलखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणाMumbai: मनी लॉन्ड्रिंग केस में संजय राउत को बड़ा झटका, PMLA कोर्ट ने ED कस्टडी 22 अगस्त तक बढ़ाईवेंकैया नायडू को विदाई में पीएम मोदी भावुक, कहा - 'आपके साथ काम करना हमारा सौभाग्य'रेलवे ने यात्रियों को दिया बड़ा तोहफा, अब हमेशा मिलेगा कंफर्म टिकट, करना होगा ये काम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.