केरल में बाढ़ ने मचाई तबाही, अबतक 325 लोगों की मौत, AAP के सभी विधायक देंगे एक महीने की सैलरी

केरल में बाढ़ ने मचाई तबाही, अबतक 325 लोगों की मौत, AAP के सभी विधायक देंगे एक महीने की सैलरी

Anil Kumar | Publish: Aug, 18 2018 03:44:38 PM (IST) | Updated: Aug, 18 2018 04:28:09 PM (IST) New Delhi, Delhi, India

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केरल में बाढ़ से हुई तबाही के कारण लोगों की सहायता के लिए शुक्रवार को 10 करोड़ रुपए देने की घोषणा की।

नई दिल्ली। देशभर में मानसून ने तबाही मचा रखा है। कई इलाके बाढ़ की चपेट में हैं। बाढ़ को कारण सैंकड़ों लोग अपनी जान गवां चुके हैं जबकि हजारों बेघर हो गए हैं। केरल में मौसम ने जालेवा रुख अपना रखा है। केरल में भीषण बाढ़ के कारण अबतक 325 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि हजारों बेघर हो गए हैं। राज्य में हजारों एकड़ जमीन में लहलहाती फसल तबाह हो चुकी है। इसके अलावे बाकी इलाकों का सड़क से संपर्क टूटने के कारण अस्पतलों में ऑक्सीजन की कमी हो गई है और पेट्रोल पंपों में ईंधन नहीं मिल पा रहा है। इनसबके बीच दिल्ली सरकार ने एक अहम फैसला लिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केरल में बाढ़ से हुई तबाही के कारण लोगों की सहायता के लिए शुक्रवार को 10 करोड़ रुपए देने की घोषणा की। केजरीवाल ने कहा केरल में हुए भयानक तबाही के बाद पटरी पर जीवन को सुचारु रुप से चलाने के लिए आम आदमी पार्टी के विधायक अपनी एक महीने की सैलरी देंगे और मदद करेंगे।

 

केरल में बाढ़ से चिंतित हुआ संयुक्त राष्ट्र, अब तक जा चुकी है 300 से अधिक जान

पंजाब सरकार ने भी 10 करोड़ रुपए देने की घोषणा की

आपको बता दें कि केजरीवाल ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि संकट में फंसे आम लोगों की मदद के लिए उदारतापूर्वक दान करें। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा 'मैंने केरल के मुख्यमंत्री से बातचीत की। दिल्ली सरकार 10 करोड़ रुपये का योगदान कर रही है। मैं सभी से केरल के अपने भाइयों और बहनों के लिए उदारतापूर्वक दान करने की अपील करता हूं।' आपको बता दें कि दिल्ली सरकार के अलावा पंजाब सरकार ने भी केरल वासियों की मदद के लिए 10 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की है।

केरल में बाढ़ से तबाही, पीएम मोदी ने 500 करोड़ रुपए सहायता राशि की घोषणा की

जायजा लेने देर रात केरल पहुंचे पीएम मोदी

आपको बता दें कि केरल में हुई भारी तबाही और करीब 325 लोगों के मौत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार की देर रात जायजा लेने के लिए केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के लिए पहुंचे। इससे पहले राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के साथ ही सैनिकों ने फंसे लोगों को बचाने के लिए शुक्रवार सुबह से बचाव अभियान तेज कर दिया। भारी बारिश के बाद पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन के कारण सड़कें जाम हो रहे हैं और कई गांवों का संपर्क मुख्य इलाके से कट गया है। कई गांव बाढ़ के कारण टापू में बदल गए हैं। बता दें कि केंद्रीय महिला महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 100 मीट्रिक टन तैयार खाने के पैकेट बाढ़ प्रभावित इलाकों को भेजा है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned