हार्इटेक सिटी के गेस्ट हाउस के अंदर लाखों रुपये में एेसे लगती थी लड़कियों की बोली

हार्इटेक सिटी के गेस्ट हाउस के अंदर लाखों रुपये में एेसे लगती थी लड़कियों की बोली

Nitin Sharma | Publish: Sep, 07 2018 03:38:08 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

लाखों रुपये से होती थी शुरुआत पुलिस अब व्हाट्सएेप करने वालों की जांच में जुटी

नोएडा।दिल्ली एनसीआर में हार्इटेक सिटी के नाम से अपनी पहचान बनाने वाले नोएडा में हाल ही में खुले अनैतिक देह व्यापार मामले में एक चौकाने वाला खुलासा हुआ है।जिसमें सामने आया कि गैंग के पास किशोरियों की डिमांड आती थी।इसी के लिए आरोपी दलाल लड़कियों को बेहाश कर गेस्ट हाउस में लेकर जाते थे।जहां उनकी बोली लगार्इ जाती थी।इसमें बिजनेमैन के साथ सफेदपोश भी शामिल होते थे।वहीं इनकी बोली हजार में नहीं बल्कि कर्इ लाख तक जाती थी।हाल ही में एक लड़की की बोली लगने वाली थी।लेकिन समय रहते पुलिस ने कार्रवार्इ कर इस गिरोह का भाड़ाफोड़ कर दिया।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें-मुन्ना बजरंगी हत्या मामले में धनंजय सिंह ने दर्ज कराए बयान

गेस्ट हाउस में एेसे लगार्इ जाती थी बोली

दरअसल इस मामले में खुलासा हुआ है कि आरोपी डाॅक्टर नाबालिग लड़कियों को बहला फुसला कर आैर अपहरण कर उन्हें सेक्टर-15 के गेस्ट हाउस ले जाते थे। यहां लड़कियों के विरोध करने पर आरोपी उन्हें नशे की दवार्इ देकर उनकी बोली लगवाते थे। यह बोली व्हाट्सएेप आैर वहां मौजूद कुछ बिजनेसैन लोगों द्वारा लगार्इ जाती थी। जानकारी के अनुसार एक सितंबर को बरामद किशोरी को उंची कीमत में बेचने के लिए ही आरोपित एक सप्ताह तक दिल्ली के कीर्ति नगर में स्थित एक मकान में छिपाकर रखे थे। किशोरी को रोज पांच-छह लोगों को दिखाया जाता था। उसकी बोली दो लाख रुपये तक लग चुकी थी। पुलिस ने एक सितंबर को देह व्यापार कराने के मकसद से अपहरण की गई 14 साल की किशोरी को बरामद किया था। इस दौरान हाकिम उर्फ मामा, प्रीति, सौरभ समेत चार को गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़ें-अमिताभ बच्चन ने गाजियाबाद की इस महिला को दिए साढ़े तीन लाख रुपये आैर कही ये बात

पुलिस ने गेस्ट हाउस संचालक को भी किया गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

पुलिस ने गेस्ट हाउस में लड़कियों की बोली लगने का पता लगते ही पूछताछ कर सेक्टर 15 स्थित एक गेस्ट हाउस के संचालक सुमित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने यहां से भी एक किशोरी समेत चार लड़कियों को मुक्त कराया । लड़कियों ने पुलिस को बताया है कि उन्हें बेचने के लिए बोली लगती थी। बोली में ज्यादातर 40 साल से अधिक उम्र के लोग ही होते थे। उन्हें बोली लगने से पहले छोटे कपड़े पहनाकर बिठा दिया जाता था। जिसके बाद लोग उनकी आकर बोली लगाते थे।

यह भी पढ़ें-ड्यूटी में रहते हुए यूपी पुलिस के कांस्टेबल ने लड़ा था चुनाव अब मिलेगी सजा!

व्हाट्सएेप पर बात करने वालों की तलाश में जुटी पुलिस

पुलिस गिरफ्त में आए आरोपियों के पास से बरामद मोबाइलों में व्हाट्सएेप हिस्ट्री में कर्इ एेसे नंबर मिले है। जिनसे आरोपियों की लगातार बात होती थी। इनमें लड़कियों से संबंधित चैट मिली है। जिन पर बात कर आरोपी लड़कियों को भेजते थे। वहीं पुलिस को शक है कि इस नंबर पर चैट करने वाले कुछ दलाल भी हो सकते है। एेसे में पुलिस चैट पर बात करने वालों के नंबरों की तलाश में जुट गर्इ है।

Ad Block is Banned