कड़ाके की ठंड के बीच बारिश ने तोड़ा 20 साल का रिकॉर्ड, अगले 24 घंटे इन शहरों में ओलावृष्टि की चेतावनी

Highlights
- जनवरी के पहले चार दिन में 20 मिमी से अधिक बारिश
- साल का पहला पश्चिमी विक्षोभ
- इससे पहले 2000 में हुई थी 19.4 मिमी बारिश

By: lokesh verma

Published: 05 Jan 2021, 05:58 PM IST

नोएडा. मौसम का बदलता मिजाज लोगों को ठिठुरने पर मजबूर कर रहा है। नए साल के पहले दिन से शुरू हुई बारिश (Rain) मंगलवार को भी रुक-रुककर जारी रही। हालांकि, जिले में बारिश का स्तर और समय विभिन्न स्थानों पर अलग-अलग रहा। स्काईमेट के अनुसार, इस बार जनवरी के शुरुआत में हुई बारिश ने 20 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 2000 के बाद जनवरी के शुरुआती दिनों में इतनी बारिश नहीं हुई है। मौसम विभाग के अनुसार, 6 जनवरी तक बारिश और ओलावृष्टि के आसार बने हुए हैं। मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

यह भी पढ़ें- यूपी में बारिश के साथ गिरेंगे ओले, पड़ेगी कड़ाके की ठंड, इन जिलों में मौसम विभाग का अलर्ट, देखें लिस्ट

स्काईमेट के अनुसार, जनवरी में औसतन 19.3 मिलीमीटर बारिश होती है। जबकि जनवरी के शुरुआती दिनों में ही दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में 20 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई है। दिल्ली एनसीआर में लगातार तीन वर्षों से बारिश की तीसरी जनवरी है। इससे पहले जनवरी 2020 में 34.4 मिमी, जनवरी 2019 में 37.8 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

राष्ट्रीय मध्यम अवधि मौसम पूर्वानुमान केंद्र (NCMRWF) के निदेशक डॉ. आशीष के मित्रा ने बताया कि हर साहल दिसंबर और जनवरी में सबसे अधिक पश्चिमी विक्षोभ बनते हैं। यह जनवरी का पहला पश्चिमी विक्षोभ है, जो 6 जनवरी तक प्रभावी रह सकता है। उन्होंने बताया कि अभी यह कहना मुश्किल है कि जनवरी में ऐसे और कितने विक्षोभ आएंगे, लेकिन पिछले कुछ सालों से जनवरी में बारिश का स्तर अच्छा रहा है। मौसम विभाग की मानें तो 7 जनवरी से दिल्ली एनसीआर में शीतलहर का दूसरा दौर शुरू होगा।

यह भी पढ़ें- Weather Update : इन जिलों में आज हो सकती है बारिश, ओलावृष्टि की भी संभावना, मौसम विभाग का अलर्ट

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned