Pakistan: कराची में Jamaat-e-Islami की रैली में Grenade Attack, कम से कम 39 घायल

HIGHLIGHTS

  • Jamaat-e-Islami के प्रवक्ता ने बताया कि यह विस्फोट ( Blast ) गुलशन-ए-इकबाल क्षेत्र में रैली का हिस्सा बने मुख्य ट्रक के पास हुआ है।
  • पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक साजिद सदोजई ने कहा कि मोटरसाइकिल पर सवार दो अज्ञात व्यक्तियों ने रैली में एक आरजीडी-1 ग्रेनेड फेंका ( Granade Attack ) और भाग गए।

By: Anil Kumar

Updated: 05 Aug 2020, 11:05 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ( Pakistan ) के कराची में बुधवार शाम को ग्रेनेड हमला हुआ। इस हमले में कम से कम 39 लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि जमात-ए-इस्लामी ( Jamaat-E-Ishlami ) की रैली में ग्रेनेड हमला ( Grenade Attack ) किया गया। जेआई के प्रवक्ता ने बताया कि यह विस्फोट गुलशन-ए-इकबाल क्षेत्र में रैली का हिस्सा बने मुख्य ट्रक के पास हुआ है।

सिंध के स्वास्थ्य मंत्री, मीडिया समन्वयक, मीरान यूसुफ के मुताबिक, विस्फोट में घायल हुए लोगों में से एक की हालत गंभीर है। फिलहाल, किसी के भी मौत की खबर नहीं आई है। उन्होंने कहा कि पहले घायलों में से पांच को अल मुस्तफा अस्पताल, सात को जिन्ना स्नातकोत्तर चिकित्सा केंद्र ( JPMC ), 11 को आगा खान विश्वविद्यालय अस्पताल और 10 को लियाकत नेशनल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Pakistan: हैकर्स ने न्यूज चैनल Dawn को किया हैक, स्क्रीन पर तिरंगा लहराते हुए लिखा- Happy Independence Day

यूसुफ ने आगे कहा कि अधिकांश घायलों को बहुत मामूली चोटें आई है, जबकि कुछ को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है। पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक साजिद सदोजई ने कहा कि मोटरसाइकिल पर सवार दो अज्ञात व्यक्तियों ने रैली में एक RGD-1 ग्रेनेड फेंका और भाग गए। उन्होंने पहले कहा था कि विस्फोट एक बम के कारण हुआ था।

सिंधुदेश रिवोल्यूशनरी आर्मी ने हमले की जिम्मेदारी

अधिकारियों ने बताया कि बैत-उल-मुकर्रम मस्जिद ( Bait-ul-Mukarram Mosque ) के पास हुए विस्फोट ने आसपास की कारों की खिड़कियों को भी चकनाचूर कर दिया। धमाके के बाद पुलिस और रेंजर्स की भारी टुकड़ी घटना स्थल पर पहुंची और जांच में जुट गई है। प्रतिबंधित सिंधुदेश रिवोल्यूशनरी आर्मी ( SRA ) ने सोशल मीडिया ( Social Media ) के माध्यम से हमले की जिम्मेदारी ली।

बता दें कि भारत सरकार की ओर से 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir ) से अनुच्छेद 370 ( Article 370 ) हटाने के खिलाफ जेआई ने एक रैली आयोजित की गई थी। जेआई प्रमुख सिराजुल हक ने ट्वीट करते हुए धमाके को 'कायरतापूर्ण कार्य' करार दिया है। जेआई के प्रवक्ता ज़ाहिद असकरी ने कहा कि धमाके के बाद रैली जारी रही और इसे हसन स्क्वायर में जेआई कराची के प्रमुख हाफ़िज़ नईम रहमान ने संबोधित किया। अपने भाषण में, रहमान ने कश्मीरियों के खिलाफ भारतीय अत्याचारों और रैली पर हमले की निंदा की और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned