script10 people injured due to bee attack in Pali Rajasthan | यहां मधुमक्खियों के हमले से दूल्हा-दुल्हन सहित 10 लोग घायल, अफरा-तफरी मची | Patrika News

यहां मधुमक्खियों के हमले से दूल्हा-दुल्हन सहित 10 लोग घायल, अफरा-तफरी मची

locationपालीPublished: Dec 09, 2023 07:30:28 pm

Submitted by:

Suresh Hemnani

Bee Attack in Pali Rajasthan: पाली जिले के गुरलाई गांव की है घटना, ज्योत के दौरान उठे धुएं से बिफरी मधुमिक्खयां।

 

यहां मधुमक्खियों के हमले से दूल्हा-दुल्हन सहित 10 लोग घायल, अफरा-तफरी मची
पाली में मधुमक्खियों के हमले से घायल हुआ दुल्हे का भाई।

Bee Attack in Pali Rajasthan: पाली शहर के निकटवर्ती गुरलाई गांव में शनिवार को नारियल जलाकर ज्योत करने के दौरान उठे धुएं से पेड़ पर बैठी मधुमक्खियों ने वहां बैठे दूल्हा-दुल्हन समेत दस से अधिक लोगों को डंक मार दिया। इससे वहां अफरा-तफरी मच गई। आठ गंभीर घायलों को उपचार के लिए पाली के बांगड़ अस्पताल लाया गया।

जानकारी के अनुसार गुरलाई निवासी गिरधरसिंह उर्फ विक्रमसिंह पुत्र हिन्दूसिंह भाटी राजपूत की शादी 7 दिसम्बर को बेरा जेतपुरा (शिवंगज) निवासी उर्मिला कंवर से हुई थी। शादी के बाद जात (मंदिर में पूजा-अर्चना) देने दूल्हा-दुल्हन अपने रिश्तेदारों के साथ दो कारों से गुरलाई गांव के निकट एक मंदिर पर गए थे। जहां एक पेड़ के नीचे नारियल जलाकर ज्योत की गई। उससे उठा धुंआ पेड़ पर बैठे मधुमक्खियों के छज्जे से टकराया गया तो मधुमक्खियों उन पर हमला कर दिया। अचानक हुए हमले में बचने के लिए इधर-उधर भागने लगे।

ये हुए घायल
मधुमक्खियों के हमले में दूल्हा गिरधरसिंह उर्फ विक्रमसिंह पुत्र हिन्दूसिंह भाटी राजपूत, दुल्हन उर्मिला कंवर, साली गुड़ा एंदला निवासी रेणुका पुत्री नेपालसिंह राजपूत, जोधपुर निवासी चंचल कंवर पत्नी महिपाल सिंह, जालोर सिवाना निवासी माधव पुत्र महिपाल सिंह, आईजीपी की ढाणी निवासी सज्जनसिंह पुत्र रावतसिंह राजपूत, बाड़मेर के दूदोड़ा निवासी स्वरूपसिंह पुत्र खेतसिंह राजपूत व खिंवाड़ा निवासी कंचन कंवर पत्नी राणसिंह राजपूत गंभीर रूप से घायल हो गए।

दूल्हे के भाई के काटने पड़े बाल
मधुमक्खियों के डंक मारने में सबसे ज्यादा खराब हालत दूल्हे के रिश्ते के भाई बाड़मेर के दूदोड़ा गांव निवासी स्वरूपसिंह की हुई। उनके सिर पर मधुमक्खियों के काफी डंक मारे। बांगड़ अस्पताल लाए जब उनके बालों में कुछ मधुमक्खियों भी फंसी हुई थी। मधुमक्खियों के डंक निकालने के लिए उनके बाल अस्पताल में काटे गए। उसके बाद उसके सिर में फंसे मधुमक्खियों के डंक चिकित्साकर्मियों और उनके रिश्तेदारों ने निकाले।

ट्रेंडिंग वीडियो