शाह और नीतीश की मुलाकात के बाद निकला बिहार में सीट शेयरिंग का समाधान-जीत सकने वाले को ही मिलेगा टिकिट

शाह और नीतीश की मुलाकात के बाद निकला बिहार में सीट शेयरिंग का समाधान-जीत सकने वाले को ही मिलेगा टिकिट
amit shah and nitish kumar

Prateek Saini | Updated: 13 Jul 2018, 03:58:21 PM (IST) Patna, Bihar, India

भाजपा सूत्रों का दावा है कि सीटों को लेकर अभी शुरुआती बातचीत भर हुई है...

प्रियरंजन भारती की रिपोर्ट...

(पटना): भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के बीच बंद कमरे में आगामी चुनाव के मद्देनजर कई खास बातें हुईं।दोनों नेता डिनर के दौरान बंद कमरे में चालीस मिनट तक मिले। अमित शाह शुक्रवार सुबह वापस नई दिल्ली लौट गये। वे फिर सितंबर के पहले सप्ताह में बिहार आने के संकेत दे गये हैं।


बंद कमरे में चालीस मिनट चली वार्ता

जदयू सूत्रों ने दावा किया कि दोनों नेताओं के बीच बंद कमरे में चालीस मिनट तक खास बातें हुईं। अमित शाह सभी सीटों पर एनडीए की जीत का आधार सुनिश्चत करने के पक्ष में रहे। सूत्रों के मुताबिक सीट शेयरिंग को लेकर दोनों दलों के बीच यह सहमति बन गयी है कि जीत सकने वाले उम्मीदवारों के चयन का काम शीघ्र पूरा कर लिया जाए। उम्मीदवार एनडीए के जिस दल का भी हो उसकी जीत निश्चित करने के लिए एकताबद्ध होकर एनडीए काम करेगा। सीटों के चयन और बंटवारे को लेकर यह राय बनी बताते हैं कि घटक दलों के जीत सकने वाले उम्मीदवारों के चयन के आधार पर ही सीट शेयरिंग सुनिश्चित की जाए।


बिहार में जदयू ही होगा बडा भाई-सीपी ठाकुर

भाजपा और जदयू के अलावा लोजपा और रालोसपा के साथ भी इस मसले पर जल्दी ही भाजपा नेतृत्व मंथन करेगा। इस बीच वरिष्ठ भाजपा नेता सीपी ठाकुर ने बयान में कहा कि बिहार में जदयू ही बड़े भाई की भूमिका में रहेगा। उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व ने यह फार्मूला तय कर दिया है। हालांकि सीटों को लेकर अभी कोई खांका तैयार करने की घोषणा नहीं की गयी है पर नीतीश कुमार को लेकर अमित शाह ने जो बातें खुलकर कहीं उसके साफ मायने निकाले जाने लगे हैं। अमित शाह ने साफ कहा था कि नीतीश कुमार एनडीए में हैं और कोई कुछ भी कर ले वह कहीं जाने वाले नहीं हैं। नीतीश कुमार और जदयू नेताओं में भी अमित शाह से इस मुलाकात के बाद इत्मिनान का माहौल बना दिख रहा है। दोनों दलों की ओर से जारी बयानबाजी पर भी विराम लग गया है।


सीट शेयरिंग का खाका तैयार

दस घंटों के दौरान दोनों नेताओं की नाश्ते और रात के भोजन के दौरान दो बार मुलाकातें हुईं। इसके निहितार्थ खासे महत्वपूर्ण हैं । भाजपा सूत्रों का दावा है कि सीटों को लेकर अभी शुरुआती बातचीत भर हुई है। सीट शेयरिंग का खांका तैयार कर लिया गया है। इसका स्वरूप जल्द ही तय कर लिया जाएगा। इसी योजना को आकार देते हुए शाह ने भाजपा कार्यकर्ताओं को सभी चालीस सीटों पर जीतने की तैयारी का टार्गेट तय कर दिया है। अमित शाह ने देर रात प्रदेश भाजपा चुनाव समिति की बैठक भी की और चुनावी तैयारियों का गहन आकलन किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned