विधासभा चुनाव साधने में जुटे अमित शाह, तीन राज्यों के नेताओं को बुलाकर की अहम चर्चा

विधासभा चुनाव साधने में जुटे अमित शाह, तीन राज्यों के नेताओं को बुलाकर की अहम चर्चा

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: Jun, 09 2019 01:16:28 PM (IST) | Updated: Jun, 09 2019 01:36:15 PM (IST) राजनीति

  • लोकसभा के बाद अमित शाह का मिशन विधानसभा
  • हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड के नेताओं के साथ शुरू किया मंथन
  • आगामी रणनीति पर चर्चाओं का दौर शुरू, तीनों राज्यों में बीजेपी की सरकार

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत के बाद भाजपा ने भले अपने रथ को कुछ दिन का आराम दिया हो, आगे भी इस रथ को यूं विजय दिलाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। यही वजह है कि इस वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी ने अपनी रणनीति बनाना शुरू कर दी है। रणनीति क्या होगी, इस पर कैसे काम किया जाएगा इसको लेकर भाजपा अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह सक्रिय हो गए हैं। शाह ने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय पर एक कोर कमेटी सदस्यों की बैठक आयोजित की है। इस बैठक में हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड के कोर कमेटी के सदस्यों को बुलाया गया है।


पार्टी की रणनीति पर चर्चा
अमित शाह ने रविवार को बैठक में तीन राज्यों हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड को फोकस करते हुए इन राज्यों से अपनी कोर कमेटी के सदस्यों के साथ चर्चा शुरू कर दी है। इस चर्चा का एजेंडा विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत के सिलसिले को बरकरार रखना है।

वायुसेना का बड़ा ऐलान, लापता विमान AN-32 के बारे में जानकारी देने वाले को मिलेगा 5 लाख का इनाम

साख को बचाना बड़ी चुनौती
खास बात यह है कि जिन तीन राज्यों को लेकर अमित शाह ने चर्चाओं का दौर शुरू किया है। इन तीनों ही राज्यों में मौजूदा समय में भाजपा की ही सरकार है। ऐसे में पार्टी के लिए सबसे बड़ी चुनौती अपनी सरकार को बचाकर रखना होगी। इस रणनीति पर कैसे काम किया जाए ताकि जनता का भरोसा जीता जा सके ये इस बैठक में निकलकर सामने आएगा।

 

जारी रहेगा बैठकों का सिलसिला
भारतीय जनता पार्टी ने अपना आगामी एजेंडा सेट कर लिया है। विधानसभा चुनावों के साथ भाजपा संगठन के चुनावों पर भी बैठकें आयोजित की जानी है। हालांकि इससे पहले ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने 13 और 14 जून को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के संगठन से जुड़े प्रमुख नेताओं की बैठक बुलाई है। इस बैठक में सांगठनिक मामलों के प्रभारी नेता हिस्सा लेंगे। मकसद साफ है विधानसभा चुनाव से पहले संगठन प्रमुखों के नाम पर मुहर लगाकर उन्हें आगे की जिम्मेदारी सौंपना।

 

modi

पीएम मोदी ने भी दिए संकेत
दरअसल पीएम मोदी ने भी इस बार योगदिवस पर झारखंड का चयन किया है। 21 जून को आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम में वे इस बार रांची में हिस्सा लेंगे। दरअसल इस वर्ष होने वाले चुनाव से पहले मोदी यहां पर कार्यक्रम के साथ लगे हाथ पार्टी के लिए माहौल भी बनाने की कोशिश में जुटे हैं। ये पीएम मोदी का संकेत है कि वे झारखंड को लेकर अभी से सक्रिय हो गए हैं।

पढ़ेंः असलम शेर खां ने राहुल गांधी को लिखा पत्र, कांग्रेस अध्यक्ष बनने की जताई मंशा

2014 विधानसभा चुनाव में सीटों का गणित
महाराष्ट्र
कुल सीट - 288
बीजेपी - 122
शिवसेना - 63
कांग्रेस - 42
एनसीपी - 41

हरियाणा
कुल सीट - 90
बीजेपी - 47
इनेलो - 19
कांग्रेस - 15
हजकां - 2
बसपा - 1
शिअद - 1
निर्दलीय - 5

झारखंड
कुल सीट - 82
बीजेपी प्लस - 47
झामुमो - 19
कांग्रेस - 7
जेवीएम - 2
बसपा - 1
सीपीआई (एमएल) - 1
अन्य - 4

अध्यक्ष के चुनाव में अभी वक्त
अमित शाह का तीन साल का कार्यकाल इस साल की शुरुआत में खत्म हो चुका है, लेकिन पार्टी ने उनसे संगठन के चुनाव होने तक कामकाज संभालने को कहा। लोकसभा चुनावों पर ध्यान देने की वजह से संगठन के चुनावभी टाल दिये गये थे। हालांकि अब भी पार्टी का फोकस विधानसभा चुनावों पर है। ऐसे में माना जा रहा है। प्रदेश अध्यक्ष के चयन के बाद ही राष्ट्रीय अध्य़क्ष के नाम पर मुहर लगेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned