Bihar: Corona से मौत के आंकड़ों में गड़बड़ी के बाद सियासी पारा हाई, पप्पू यादव और कांग्रेस ने सीएम पर बोला हमला

कोरोना से होने वाली मौतों के आंकड़ों पर सियासी घमासान, पप्पू यादव ने पूछा कौन कर रहा मौत का घोटाला?

By: धीरज शर्मा

Published: 10 Jun 2021, 01:08 PM IST

नई दिल्ली। बिहार में कोरोना ( Coronavirus ) से मौत के आंकड़ों की सच्चाई सामने आने के बाद सियासी घमासान शुरू हो गया है। पूर्व सांसद पप्पू यादव ( Pappu Yadav ) के साथ ही बिहार कांग्रेस ने नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

पप्पू यादव ने आरोप लगाया है कि प्रदेश में कोविड-19 से मरने वाले लोगों के आंकड़ों के साथ बड़ा फर्जीवाड़ा किया गया है। पूर्व सांसद ने पूछा, 'बिहार में मौत घोटाला! पटना में कल 1000 से अधिक लोगों की कोरोना से मौत की क्या है सच्चाई?

यह भी पढ़ेँः कोरोना संक्रमित बच्चों के लिए जारी हुई नई गाइडलाइन, इलाज में न हो रेमडेसेविर का इस्तेमाल

बिहार में कोरोना से मरीजों की मौत (Corona Death)के आंकड़ों में आये बदलाव के बाद स्वास्थ्य विभाग (Health Department) सवालों के घेरे में आ गया है।

दरअसल पहले विभाग ने कहा था कि प्रदेश में 5458 लोग कोरोना से मरे हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत के बयान में मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 9429 हो गई। मौत के आंकड़ों के इस घालमेल के बाद स्वासथ्य मंत्रालय के साथ नीतीश सरकार भी विरोधियों के निशाने पर है।

पप्पू यादव ने ये कहा
पप्पू यादव ने ट्वीट कर सरकार को घेरा है। उन्‍होंने ट्वीट कर बिहार सरकार से पूछा है कि एक दिन में बिहार में 3971 लोग कोरोना से मरे हैं। ये आंकड़े कोविड19 इंडिया डॉट ओआरजी पर मौजूद हैं।
सरकार बताए एक दिन में इतनी मौते कैसे हुईं।

पहले मौत के आंकड़ों को छुपाया गया था, अब उन्हें जारी किया गया है, आखिर यह खेल किसका है? स्वास्थ्य विभाग में मौत के आंकड़ों का घोटाला कौन कर रहा है?'

इसके साथ पूर्व सांसद पप्पू यादव ने ट्वीट करके कहा है कि कुर्सी-कुर्सी खेलने वालों, मन्दिर और मस्जिद के नाम पर जहर घोलने वालों ठहर जाओ वरना मौत तुम्हारे दर पर भी दस्तक देगी।

यह भी पढ़ेंः किसान आंदोलन को लेकर राहुल गांधी ने किया ट्वीट, जानिए किस बात का किया दावा

कांग्रेस ने भी बोला हमला
कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि आपदा में अवसर को तलाशना कोई बिहार सरकार से सीखे। बिहार में कोविड-19 से मरने वाले लोगों के आंकड़ों को लेकर सरकार कल तक झूठ बोल रही थी। आखिर क्या वजह है कि सरकार ने 70 फ़ीसदी मौत के आंकड़े को छुपाया?

कांग्रेस नेता ने कहा कि मौत के आंकड़ों में जो फर्क है उससे ये साफ होता है कि बिहार सरकार पूरी तरीके से भ्रष्ट हो चुकी है। कोविड-19 से हुई मौत को लेकर भी फर्जीवाड़ा कर रही है। कांग्रेस का मानना है कि बिहार में 50,000 से भी ज्यादा लोगों की संक्रमण से मौत हुई है लेकिन सरकार केवल दो-चार हजार ही मौत का आंकड़ा बता रही है।

बहरहाल, बिहार सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की ओर से जारी आंकड़े में यह नहीं बताया गया है कि ये अतिरिक्त मौतें कब हुईं, लेकिन प्रदेश के सभी 38 जिलों का एक ब्रेकअप उल्लेखित किया गया है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned