एक साल में तीसरी बार पार्टी नेताओं की अंतिम यात्रा का साक्षी बना बीजेपी मुख्यालय

  • Arun Jaitley के निधन के बाद देशभर में शोक की लहर
  • BJP delhi Headquarter ने एक साल में देखी तीन त्रासदी
  • बीजेपी के दिग्गज नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

By: धीरज शर्मा

Published: 25 Aug 2019, 02:52 PM IST

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता रहे अरुण जेटली ( Arun Jaitley ) का शनिवार को दिल्ली में निधन हो गया। रविवार सुबह जेटली के पार्थिव शरीर को उनके कैलाश कॉलोनी स्थित निवास से बीजेपी मुख्यालय लाया गया। यहां से करीब 2.30 बजे उनका पार्थिव शरीर निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया।

आपको बता दें कि एक साल में बीजेपी मुख्याल से तीसरी शव यात्रा निकाली गई है।

दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर बीजेपी के इस नए मुख्यालय का उद्घाटन फरवरी 2018 में किया गया था।

तब से अब तक बीते करीब एक साल में मुख्यालय तीन प्रमुख नेताओं की अंतिम यात्रा का साक्षी बन चुका है।

दुनिया छोड़ने से पहले अरुण जेटली ने अपने वेतन से कर गए बड़ा काम

अटल बिहारी वाजपेयी से शुरू हुआ सिलसिला
बीजेपी मुख्यालय में सबसे पहले 16 अगस्त 2018 को देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर लाया गया।

लंबी बीमारी के बाद उनका 93वर्ष की उम्र में निधन हो गया था।

फरवरी में हुए उद्घाटन के बाद पहली बार इस मुख्यालय में अंतिम दर्शनों के लिए किसी नेता को लाया गया था।

वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी थी।

सुषमा को दी गई अंतिम बिदाई
अटल बिहारी वाजपेयी के बाद देश की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन ने पूरी दुनिया को स्तब्ध कर दिया।

6 अगस्त 2019 को सुषमा स्वराज ने दुनिया को अलविदा कर दिया। सुषमा स्वराज के पार्थिव शरीर को भी बीजेपी मुख्यालय में लाया गया जहां आम जनता के साथ राजनीतिक दल से जुड़े लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

pm modi PM Narendra Modi
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned