BJP सांसद सनी देओल को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा, जानिए अब कितने सुरक्षाकर्मियों का लश्कर होगा साथ

  • BJP सांसद Sunny Deol को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा
  • गृह मंत्रालय को मिली रिपोर्ट में सनी की जान को बताया गया खतरा
  • 3 दिन में तीसरे नेता की सुरक्षा में किया या है इजाफा

By: धीरज शर्मा

Published: 16 Dec 2020, 11:48 AM IST

नई दिल्ली। अभिनेता से नेता बने बीजेपी सांसद ( BJP MP ) सनी देओल ( Sunny Deol ) की सुरक्षा में इजाफा हुआ है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पंजाब के गुरदासपुर से सांसद सनी देओल को वाय श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है। अब उनके साथ केंद्रीय सुरक्षा बलों की एक टीम हमेशा मौजूद रहेगी।

सनी देओल की ये सुरक्षा उनकी जान की खतरे को देखते हुए बढ़ाई गई है। आपको बता दें कि पिछले तीन दिन में तीन बड़े नेताओं की सुरक्षा में इजाफा किया गया है। आईए जानते हैं सनी देओल की मिली वाय श्रेणी की सुविधा के तहत अब हमेशा उनके साथ कितने सुरक्षाकर्मियों को लश्कर साथ रहेगा।

भारतीय युवाओं में बढ़ रही याबा ड्रग की मांग, सुरक्षा एजेंसियों ने इस बात को लेकर जारी किया बड़ा अलर्ट

कुल 13 लोगों की टीम रहेगी साथ
गृहमंत्रालय ने आईबी की रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी सांसद सनी देओल की जान को खतरा बताया गया है। ऐसे में किसी अनहोनी से बचने के लिए सरकार की से सनी देओल को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

इस सुरक्षा के तहत सनी देओल के साथ 11 जवान और 2 पीएसओ मौजूद रहेंगे। यानि अब से सनी देओल अपने साथ कुल 13 लोगों की टीम के साथ ही चलेंगे।

पाकिस्तान से भी खतरा
दरअसल रिपोर्ट के मुताबिक सनी देओल जिस क्षेत्र से सांसद हैं वो पाकिस्तान की सीमा से सटा हुआ है। ऐसे में पाकिस्तान से दहशतगर्त गुरदासपुर पहुंच कर सनी पर जानलेवा हमला कर सकते हैं, या फिर उनके खिलाफ किसी बड़ी हिंसक साजिश को रच सकते हैं।

किसानों के प्रदर्शन का असर
सरकार ने बीजेपी सांसद सनी देओल की सुरक्षा में उस वक्त इजाफा किया है जब पंजाब के किसान 20 दिन से ज्यादा समय से अपनी मांगों को लेकर बीजेपी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

इस बीच कई बार किसान संघ गुरदासपुर से सांसद सनी देओल की चुप्पी पर भी सवाल उठा चुके हैं। इस दौरान किसान संगठनों ने बीजेपी सांसदों के घरों का घेराव करने की भी बात कही थी।

किसान आंदोलन पर ये थी सनी की प्रतिक्रिया
किसानों को आंदोलन को लेकर सनी देओल काफी देर से अपनी चुप्पी तोड़ी थी। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि वे इस मुद्दे पर किसान और सरकार दोनों के साथ हैं। यही नहीं इस दौरान उन्होंने विदेशों से आ रही प्रतिक्रियाओं पर भी पलटवार करते हुए इसे किसान और सरकार के बीच का मामला बताया था।

उन्होंने कहा था कि- मैं पूरी दुनिया से यह अनुरोध करता हूं कि यह हमारे किसानों और सरकार के बीच का मामला है। उनके बीच में ना आएं क्योंकि चर्चा के बाद दोनों जरूर रास्ता निकालेंगे। मैं जानता हूं कि कई लोग इसका फायदा उठाना चाहते हैं और वे समस्या खड़ी कर रहे हैं।

मौसम विभाग ने जारी किया बड़ा अलर्ट, उत्तर भारत समेत इन राज्यों में अगले दो दिन पड़ेगी कड़ाके की ठंड, इन इलाकों में बारिश की चेतावनी

3 दिन में तीसरे नेता की बढ़ी सुरक्षा

आपको बता दें कि पिछले तीन दिन में तीन दिग्गज नेताओं की सुरक्षा में इजाफा हुआ है। इनमें बीजेपी के महासचिव और पश्चिम बंगाल चुनाव के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय को जेड सुरक्षा दी गई। वहीं दूसरे दिन टीएमसी नेता जिनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें चल रही है शुभेंदु अधिकारी को जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned