कांग्रेस ने केंद्र पर बोला हमला, राहुल गांधी ने बोले- 'जुलाई चला गया, वैक्सीन की कमी नहीं गई'

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को केंद्र सरकार के दावों को लेकर देश में टीकों की कमी पर सवाल उठाया। राहुल ने एक ट्वीट करते हुए लिखा 'जुलाई चला गया, वैक्सीन की कमी नहीं गई'। इससे पहले जुलाई के शुरुआत में लिखा था 'जुलाई आ गया है, वैक्सीन नहीं आई'।

By: Anil Kumar

Updated: 01 Aug 2021, 06:08 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए देशभर में तेजी के साथ टीकाकरण करने पर जोर दिया जा रहा है और इसके लिए वैक्सीन के उत्पादन में बढ़ोतरी किए जाने से लेकर कई अन्य कदम उठाए जा रहे हैं। वहीं, वैक्सीनेशन को लेकर सियासी तकरार जारी है। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल लगातार मोदी सरकार पर वैक्सीन की कमी को लेकर आरोप लगाती रही हैं। अब एक बार फिर से कांग्रेस ने वैक्सीन की कमी को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को केंद्र सरकार के दावों को लेकर देश में टीकों की कमी पर सवाल उठाया। राहुल ने एक ट्वीट करते हुए लिखा 'जुलाई चला गया, वैक्सीन की कमी नहीं गई'। इससे पहले जुलाई के शुरुआत में लिखा था 'जुलाई आ गया है, वैक्सीन नहीं आई'। बता दें कि केंद्र सरकार ने दावा किया है कि देश में अब तक 47 करोड़ लोगों को टीका लगाया जा चुका है।

यह भी पढ़ें :- राहुल गांधी ने लगवाई कोविड वैक्सीन की पहली डोज, दो दिन से नहीं आ रहे हैं संसद

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने भी मोदी सरकार पर हमला किया और कहा कि साल के अंत तक देश के सभी वयस्कों को पूरी तरह से टीकाकरण करने के लिए कम से कम 85 लाख खुराक हर दिन लगाया जाना चाहिए। कई राज्यों में टीकाकरण को बढ़ाने की क्षमता मौजूद है। लेकिन उसमें एकमात्र समस्या वैक्सीन की आपूर्ति है।

देश में अब तक वैक्सीन की 47 करोड़ डोज लगाए गए

मालूम हो कि कांग्रेस टीकाकरण की आपूर्ति में कमी को लेकर सरकार पर निशाना साधती रही है, जबकि सरकार देश में वैक्सीन की झिझक को जिम्मेदार ठहराती रही है। सरकार ने रविवार को दावा किया कि भारत का कोविड टीकाकरण कवरेज 47 करोड़ के लैंडमार्क को पार कर गया है। पिछले 24 घंटों में 60,15,842 टीकों की खुराक दी गई।

सरकार ने कहा, सभी स्रोतों के माध्यम से अब तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 49.49 करोड़ (49,49,89,550) से अधिक वैक्सीन खुराक प्रदान की जा चुकी हैं और आगे 8,04,220 खुराक पाइपलाइन में हैं। इसमें से अपव्यय सहित कुल खपत 46,70,26,662 खुराक (रविवार को सुबह 8 बजे उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार) है। 3 करोड़ से अधिक (3,00,58,190) शेष और अप्रयुक्त कोविड वैक्सीन खुराक अभी भी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों और निजी अस्पतालों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें प्रशासित किया जाना है।

यह भी पढ़ें :- 10 फीसदी से अधिक कोविड पॉजिटिविटी वाले 46 जिलों के लिए केंद्र ने जारी किए सख्ती के निर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने 20 जुलाई को ऊपरी सदन में कहा था कि जल्द ही उनके पास बच्चों के लिए टीके होंगे। टीकों के नैदानिक परीक्षण जारी हैं। मंडाविया ने कहा कि जायडस कैडिला ने अपने कोविड -19 वैक्सीन के लिए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) के लिए आवेदन किया है और हैदराबाद स्थित जैविक ई सितंबर-अक्टूबर तक अपने कोविड -19 वैक्सीन की 7.5 करोड़ खुराक के साथ बाजार में प्रवेश करेगा।

Covid-19 in india
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned