10 फीसदी से अधिक कोविड पॉजिटिविटी वाले 46 जिलों के लिए केंद्र ने जारी किए सख्ती के निर्देश

केंद्र सरकार ने कोविड की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर रिकॉर्ड किए जा रहे जिलों से संबंधित राज्यों को सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं। साथ ही जिन 5 से 10 फीसदी संक्रमण दर वाले 53 जिलों में भी जरूरी एहतियाती कदम उठाने को कहा है।

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के नए मामलों की संख्या एक बार फिर से बढ़ने लगी है। ऐसे में तमाम स्वास्थ्य विशोषज्ञों और डॉक्टर्स का मानना है कि कोविड की तीसरी लहर ने दस्तक दे दिया है। दरअसल, देश में दर्जनों ऐसे जिले हैं जहां पर कोविड संक्रमण की दर 10 फीसदी से अधिक है। ऐसे में चिंताएं काफी बढ़ गई हैं। लिहाजा, केंद्र सरकार ने इन तमाम जिलों को निर्देश जारी किए हैं।

यह भी पढ़ें :- कोरोना के केस कम हुए, टायफाइड, पीलिया पीड़ित आने लगे सामने, अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की भीड़

केंद्र सरकार ने तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर संबंधित राज्यों से 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों में सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं। केंद्र ने राज्यों से कहा कि लोगों की आवाजाही को प्रतिबंधित करें। बता दें कि केंद्र ने 10 राज्यों में फैले 10 फीसद से अधिक संक्रमण दर वाले 46 जिलों के साथ ही 5 से 10 फीसदी संक्रमण दर वाले 53 जिलों में भी जरूरी एहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

इन राज्यों में बढ़ा कोविड का खतरा

केंद्र सरकार ने संबंधित राज्यों से कहा है कि जिन जिलों में संक्रमण दर अधिक है वहां पर जांच अभियान को तेज करें। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शनिवार को इन राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की। इस दौरान संक्रमण दर बढ़ने को लेकर चिंता जाहिर की।

जिन राज्यों के कुछ जिलों में 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर रिकॉर्ड की जा रही है उनमें केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन तमाम राज्यों की ओर से अब तक उठाए गए कदम की समीक्षा की और फिर आगे के लिए निर्देश जारी किए।

केरल में बढ़ा सबसे अधिक खतरा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों से संबंधित राज्यों में 80 फीसदी से अधिक मरीज होम आइसोलेशन में हैं। ऐसे में इन लोगों पर कड़ी निगरानी की जरूरत है।

मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, केरल में कोरोना का खतरा अब सबसे अधिक बढ़ गया है। पिछले चार दिनों से लगातार केरल में अधिक मामले पाए गए हैं, जिसकी वजह से सक्रिय मामलों की संख्या बढ़ रही है। पहले सक्रिय मामलों की संख्या 4 लाख से नीचे आ गया था, लेकिन अब फिर से बढ़कर 4.08 लाख से अधिक हो गया है।

बीते 24 घंटों में केरल में 20 हजार से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं और सौ से ज्यादा मौतें हुई हैं। बता दें कि बीते कुछ दिनों से हर दिन 500 से अधिक कोरोना मरीजों की मौत हो रही है।

देश में कोरोना की स्थिति

बीते 24 घंटों में नए मामले- 41,649
कुल मामले - 3,16,13,993
सक्रिय मामले - 4,08,920
बीते 24 घंटों में मौतें - 593
कुल मौतें - 4,23,810
ठीक होने की दर - 97.37 फीसदी
मृत्यु दर - 1.34 फीसद
पाजिटिविटी दर - 2.34 फीसद

COVID-19 virus
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned