कांग्रेस बोली- संघ की ओर से राहुल गांधी को नहीं मिला कोई निमंत्रण, अभी सभी सवाल काल्पनिक

कांग्रेस ने स्पष्ट किया है कि राहुल गांधी को जब कोई निमंत्रण पत्र ही नहीं मिला है तो इस बारे में कांग्रेस की तरफ से जवाब देने का सवाल कहां उठता है।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अबतक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तरफ से किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए नहीं मिला है। कांग्रेस प्रवक्ता जयपाल रेड्डी ने मंगलवार को एक सवाल के जवाब में कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को आरएसएस के किसी कार्यक्रम में शामिल होने का अब तक कोई आमंत्रण नहीं मिला है इसलिए इस बारे में टिप्पणी नहीं की जा सकती।

संघ ने अबतक नहीं भेजा कोई आमंत्रण

कांग्रेस ने स्पष्ट किया है कि राहुल गांधी को जब कोई निमंत्रण पत्र ही नहीं मिला है तो इस बारे में कांग्रेस की तरफ से जवाब देने का सवाल कहां उठता है। उन्होंने कहा कि पत्र मिलने के बाद उसकी सूचना और उसके बारे में लिए गए फैसले से अवगत करा दिया जाएगा। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि मैं किसी काल्पनिक या कसान भरे सवालों का जवाब नहीं देना चाहता हूं।

यह भी पढ़ें: दागी नेताओं पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, मोदी सरकार बोली- हमारे काम में न दें दखल

संघ की तुलना आईएसआईस से करने पर हुआ विवाद

राहुल गांधी द्वारा आरएसएस की तुलना इस्लामिक स्टेट और मुस्लिम ब्रदरहुड से किए जाने के बाद ऐसी खबरें आने लगीं कि कांग्रेस अध्यक्ष को संघ अपने कार्यक्रम में आमंत्रित करने वाला है। रिपोर्ट्स के मुताबित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अगले महीने 17-19 सितंबर के दौरान 'भारत का भविष्य : आरएसएस का नजरिया' विषय पर व्याख्यानमाला का आयोजन करने जा रहा है, जिसमें वह कांग्रेस समेत सभी राजनीतिक दलों को आमंत्रित करेगा।

आरएसएस को नहीं जानते हैं राहुल गांधी: संघ

आरएसएस के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत इस तीन दिवसीय कार्यक्रम को संबोधित करेंगे और चुनिंदा श्रोताओं के साथ संवाद करेंगे। राहुल गांधी द्वारा हाल ही में आरएसएस की तुलना मुस्लिम ब्रदरहुड और आईएस के साथ करने समेत लगातार उनके द्वारा संघ पर निशाना साधने को लेकर पूछे गए सवाल पर कुमार ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष जानकारी के अभाव में इस तरह के बयान देते हैं। कुमार ने कहा कि अगर राहुल गांधी यह जानते कि किस तरह आईएस, मुस्लिम ब्रदरहुड और इस्लामिक आतंकवाद पूरी दुनिया को परेशान कर रहा है तो वह इस तरह की तुलना कभी नहीं करते।

राहुल को बुलाना हमारा विशेषाधिकार: संघ

कार्यक्रम में आमंत्रित लोगों के बारे में पूछे जाने पर अरुण कुमार ने बताया कि समाजिक और सांस्कृतिक संगठनों, मीडिया, स्तंभकार, और विधिक क्षेत्र के श्रेष्ठजनों के अलावा विदेशी राजदूतों और उच्चायुक्तों को आरएसएस का नजरिया और राष्ट्रीय महत्व के विविध मसलों को जानने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। उनसे जब पूछा गया कि क्या आरएसएस के विचार का विरोध करने वाले राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया जाएगा? कुमार ने कहा कि हम सभी राजनीतिक दलों से संपर्क करेंगे। सभी से अभिप्राय सभी राजनीतिक दलों से है। खासतौर से राहुल गांधी के बारे में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, यह हमारा विशेषाधिकार है कि किन्हें आमंत्रित किया जाए। हम समाज के सभी वर्गो को शामिल करने का प्रयाश करेंगे। हालांकि आएसएस पदाधिकारी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर राहुल गांधी भी आमंत्रित होंगे।

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned