बेगुसराय से चुनाव लड़ने को तैयार कन्हैया कुमार ने कहा- अगर मैं कन्हैया हूं तो कहीं कंस भी होगा

बेगुसराय से चुनाव लड़ने को तैयार कन्हैया कुमार ने कहा- अगर मैं कन्हैया हूं तो कहीं कंस भी होगा

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Sep, 03 2018 09:45:46 PM (IST) राजनीति

जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार ने बिहार के बेगुसराय संसदीय क्षेत्र पर चुनाव लड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है।

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार अगले आम चुनाव में किस्मत आजमाने वाले हैं। वे अपने पुश्तैनी शहर से चुनाव लड़ने वाले हैं। कन्हैया बिहार के बेगुसराय संसदीय क्षेत्र से विपक्ष की ओर से संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर चुनावी किस्मत आजमाने को तैयार हैं। कन्हैया कांग्रेस और आरजेडी जैसे विपक्षी दलों के सहयोग से और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरेंगे। सोमवार को खुद कन्हैया भी इसके संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि अगर आप मुझे कन्हैया कहते हैं तो कोई कंस भी जरूर होगा, जिसका विरोध करने के लिए मुझे लड़ना होगा।

चुनाव लड़ने को तैयार हैं कन्हैया

कन्हैया कुमार के बिहार के बेगुसराय से चुनाव लड़ने पर भाकपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि यह फैसला कम से कम छह माह पहले ले लिया गया था। हमने अन्य दलों से अनौपचारिक बातचीत करके कन्हैया को बेगुसराय से चुनाव लड़ाने का निर्णय लिया। कन्हैया ने भी मीडिया से बातचीत में भी कहा था कि यदि पार्टी उनसे कहती है तो उन्हें बेगुसराय से चुनाव लड़ने में कोई आपत्ति नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: विरोध करने वालों के मुंह बंद कर देश को नफरत के आग में झोंक रही मोदी सरकार: शशि थरूर

'अगर मैं कन्हैया हूं तो कंस भी होगा'

सोमवार को एक चैनल से बात करते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि आप मुझे कन्हैया कहते हैं। अगर मैं कन्हैया हूं तो कोई कंस भी होगा। कन्हैया ने बगैर नीतीश कुमार का नाम लिए कहा कि अगर राजनीति में कोई कंस है तो हम उसके खिलाफ भी लड़ेंगे। चुनाव लड़ें या न लड़े वो समय बताएगा लेकिन संघर्ष जरूर करेंगे।

चुनाव के वक्त होगा उम्मीदवार का ऐलान: भाकपा

वहीं इससे पहले न्यूज एजेंसी से बात करते हुए भाकपा महासचिव एस सुधाकर रेड्डी ने कहा कि कन्हैया ने जो भी कहा है, सही कहा है। यदि पार्टी उन्हें (कन्हैया को) लड़ाना चाहेगी तो वह जरूर लड़ेंगे। वह बेगुसराय के हैं और वह चर्चित नेता भी हैं। हमने उम्मीदवारों के बारे में हालांकि अभी चर्चा नहीं की है कि कौन कहां से लड़ेगा? रेड्डी ने कहा कि जब चुनाव की घोषणा होगी, तभी पार्टी उम्मीदवारों के बारे में तय करेगी।

कन्हैया पर लगा था राष्ट्रद्रोह का आरोप

गौरतलब है कि कन्हैया को पूर्व छात्र नेताओं- उमर खालिद और अनिरबन भट्टाचार्य के साथ फरवरी 2016 में राष्ट्रद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। घटना के दो वर्ष बीत जाने क बाद भी दिल्ली पुलिस इस मामले में आरोप पत्र दायर नहीं कर सकी है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned