LAC Dispute : एमएनएम प्रमुख कमल हासन ने केंद्र को घेरा, कहा – पीएम मोदी से सवाल पूछना राष्ट्र विरोधी नहीं

  • All Party Meeting में पीएम की टिप्पणियों पर सवाल उठाने वालों की आलोचना के लिए केंद्र सरकार पर हमला बोला।
  • हम तब तक सवाल करते रहेंगे जब तक हमें पता नहीं चल जाता कि Galwan Valley में उस दिन क्या हुआ था।

By: Dhirendra

Updated: 22 Jun 2020, 04:16 PM IST

नई दिल्ली। दक्षिण भारत के सुपरस्टार और राजनेता कमल हासन ( MNM Chief Kamal Haasan ) ने पूर्वी लद्दाख ( East Ladakh ) के गलवान घाटी ( Galwan Valley ) में भारत और चीन ( India and China ) की सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने मोदी सरकार को चेताया है कि वो लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ न करे।

राजनीतिक पार्टी मक्कल निधि मैयम के प्रमुख कमल हासन ने पीएम मोदी की ओर से चीन विवाद पर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री की टिप्पणियों पर सवाल उठाने वालों की आलोचना के लिए केंद्र सरकार की आलोचना की है।

Army के उत्तरी कमान ने बिहार रेजिमेंट के सम्मान में ट्वीट किया वीडियो, कहा- ‘बैट्स नहीं, वे बैटमैन’ हैं

उन्होंने साफ कर दिया है कि देश की सुरक्षा को लेकर प्रधानमंत्री मोदी से सवाल पूछना राष्ट्र विरोधी नहीं है।

कमल हासन ने कहा कि हम तब तक सवाल करते रहेंगे जब तक हमें पता नहीं चल जाता कि गलवान घाटी में उस दिन क्या हुआ था। प्रधानमंत्री मोदी ( pm modi ) ने सर्वदलीय बैठक में जो बयान दिया है वह सेना और विदेश मंत्रालय ( MEA ) के बयान से बिल्कुल अलग है। ऐसे में संदेह पैदा होता है।

एमएनएम के प्रमुख कमल हासन ने कहा कि मैं मानता हूं कि देश की सुरक्षा को देखते हुए कुछ सूचनाओं को गोपनीय रखा जा सकता है लेकिन सरकार का यह दायित्व है कि इस तरह के संवेदनशील मामलों के बारे में देश को सही जानकारी दे।

India-China Faceoff: राजनाथ मॉस्को रवाना, चीन से तनातनी के बीच RIC विदेश मंत्रियों की बैठक कल, जानिए क्या है खास

विपक्ष का हमला तेज

बीजेपी की ओर से सवाल उठाने वालों की आलोचना के बाद विपक्ष ने केंद्र सरकार ( Central Government ) पर हमला तेज कर दिया है। विपक्ष का कहना है कि केंद्र सरकार LAC पर अभी भी स्थिति स्पष्ट करने को तैयार नहीं है। देश को अभी तक ये नहीं पता चल सका है 15-16 जून की रात पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी पर आखिर दोनों देशों की सेनाओं के साथ क्या हुआ,जिसके कारण भारतीय सैनिकों पर क्रूर हमला हुआ।

बता दें कि सर्वदलीय बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि लद्दाख में भारत की सीमा में न तो कोई घुसा हुआ है और न ही हमारी कोई चौकी किसी दूसरे के कब्जे में है।

pm modi
Show More
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned