प्रचंड जीत के बाद पहली बार घर पहुंचे मोदी, मां हीराबेन ने दिया यशस्वी होने का आशीर्वाद

प्रचंड जीत के बाद पहली बार घर पहुंचे मोदी, मां हीराबेन ने दिया यशस्वी होने का आशीर्वाद

Chandra Prakash Chourasia | Publish: May, 26 2019 07:12:06 PM (IST) | Updated: May, 27 2019 07:25:44 AM (IST) राजनीति

  • लोकसभा चुनाव में जीत के बाद पहली बार गुजरात पहुंचे मोदी
  • सूरत में अग्निकांड की वजह से बीजेपी नहीं मना रही जीत का जश्न
  • सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी जाएंगे मोदी

नई दिल्ली। दूसरी बार दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी अपनी मातृभूमि यानि गुजरात पहुंचे हैं। लोकसभा चुनाव में मिली भारी जीत का जश्न मनाने के लिए मोदी के साथ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी हैं।

Live Updates के लिए रिफ्रेश करें

नरेंद्र मोदी अपनी मां हीराबेन से मिलने के लिए उनके घर पहुंचे हैं। मोदी ने मां पैर छूकर आशीर्वाद लिया। कुछ भी बड़ा करने और किसी अहम मौके पर जाने से पहले मोदी अक्सर मां से मुलाकात करने उनके पास जाते रहे हैं।

- 2014 में देश को गुजरात को जानने का मौका मिला और गुजरात का विकास मॉडल सबके सामने आया। 2014 में आपने विदा किया, अब आपके दिये संस्कारों को आगे बढ़ा रहा हूं: पीएम मोदी

- 2019 के लोकसभा चुनाव में सारे राजनीतिक पंडितों की भविष्यवाणी फेल हो गई। मुझसे अक्सर पूछा जाता था कि आप कितनी सीटों पर जीत हासिल करेंगे। 6ठें चरण की वोटिंग के बाद मैंने कहा था कि हम 300 सीटें जीतेंगे तो बहुत से लोगों ने हमारा मजाक उड़ाया था। आज परिणाम सबके सामने है।

कई परिवारों के दीपक एकसाथ बुझ गए: मोदी

सूरत अग्निकांड पर मोदी ने जताया शोक, बोले- कहा कि इस घटना में कई परिवारों के दीप बुझ गए। इस घटना पर जितना भी दुख जताया जाए, कम है। मोदी ने आगे कहा कि समय कम है लेकिन मैं कोई कार्यक्रम नहीं टालना चाहता। मां का आशीर्वाद लेना जरूर है। तो वहीं आपका आशीर्वाद मेरी शक्ति है। मेरी पूज्य धरती को सिर झुकाकर नमन है

जीत के लिए जनता का शुक्रिया: शाह

बीजेपी दफ्तर में अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने जहां से यात्रा शुरू की थी, आज उसी जगह आए हैं। शाह ने गुजरात की सभी 26 सीटें पर बीजेपी को मिली जीत के लिए जनता का शुक्रिया अदा किया है। शाह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि इतनी जोर से नारे लगाएं कि आवाज पश्चिम बंगाल तक जाए।

सरदार पटेल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करने के बाद मोदी और शाह का काफिला खानपुर इलाके में जेपी चौक स्थित बीजेपी के पुराने राज्य मुख्यालय पहुंचा। मोदी 1980 के दशक के आखिर में यहां एक कमरे में रहा करते थे। उस वक्त वह गुजरात बीजेपी के संगठन सचिव हुआ करते थे।

30 मई को शपथ लेंगे नरेंद्र मोदी, दूसरी बार दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के बनेंगे प्रधानमंत्री

सूरत अग्निकांड के बच्चों को नमन

हालांकि सूरत में अग्निकांड में मारे गए बच्चों की स्मृति में यह जश्न सादा ही मनाया जा रहा है। बीजेपी की गुजरात इकाई के अध्यक्ष जीतूभाई वाघानी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह जबरदस्त जीत के बाद पहली बार यहां आ हैं लेकिन इस मौके पर होने वाले आयोजनों को सामान्य और तड़क-भड़क से दूर सादा रखा गया। कार्यक्रम में किसी तरह की आतिशबाजी और ड्रम नहीं बजाए गए हैं। ऐसा उन बच्चों की याद में किया जा रहा है जिन्होंने सूरत अग्निकांड में अपनी जान गंवा दी।

खेलो पत्रिका Flash Bag NaMo9 Contest और जीतें आकर्षक इनाम, कॉन्टेस्ट मे शामिल होने के लिए http://flashbag.patrika.com पर विजिट करें।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned