scriptVidhan Sabha Election in Five States in 2021 | बिहार का दंगल खत्म, अब इन पांच राज्यों में होगा महामुकाबला, जानें क्या है समीकरण? | Patrika News

बिहार का दंगल खत्म, अब इन पांच राज्यों में होगा महामुकाबला, जानें क्या है समीकरण?

locationनई दिल्लीPublished: Nov 19, 2020 02:35:21 pm

Submitted by:

Kaushlendra Pathak

  • 2021 में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव
  • पांच राज्यों में पांच अलग-अलग पार्टियों की सरकार

Vidhan Sabha Election in Five States in 2021
2021 में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव।
नई दिल्ली। पूरा देश इन दिनों कोरोना वायरस संकट से जूझ रहा है। इस महामारी के बीच बिहार विधानसभा चुनाव ( Vidhan Sabha Chunav ) संपन्न कराया गया। इस चुनाव में NDA ने एक बार फिर जीत का परचम लहराया। वहीं, अब साल 2021 पर राजनीतिक पार्टियों की नजर टिक गई हैं। क्योंकि, पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव कराया जाएगा। बिहार दंगल के बाद पांच और राज्यों में महामुकाबला होगा। इनमें पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल, पुडुचेरी शामिल हैं। लेकिन, इन पांच राज्यों में भी मुकाबला बेहद दिलचस्प होगा।
पढ़ें- Bihar Election: बिहार में हार से कांग्रेस में हाहाकार, लगी इस्तीफों की झड़ी

पांच राज्यों में चुनाव

दरअसल, असम में NDA की सरकार है। बीजेपी नेता सर्वानंद सोनोवाल मुख्यमंत्री पद पर काबिज हैं। वहीं, केन्द्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में कांग्रेस पार्टी की सरकार है। तमिलनाडु में AIADMK की सरकार है और मुख्यमंत्री पद पर ई पलानीस्वामी काबिज हैं। पश्चिम बंगाल में टीएमसी की सरकार है। जबकि, केरल में CPI (M) नेतृत्व वाले एलडीएफ की सरकार है।
- सबसे ज्यादा मुकाबला पश्चिम बंगाल का दिलचस्प है। क्योंकि, बीजेपी ने यहां ममता सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। पिछले 10 साल से टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी यहां की मुख्यमंत्री हैं। 2016 विधानसभा चुनाव में टीएमसी को 211 सीटें मिली थी। जबकि, बीजेपी को तीन सीटों से संतोष करना पड़ा था।
- वहीं, असम में बीजेपी को 60 सीटें मिली थीं। जबकि, कांग्रेस केवल 26 सीटें ही मिली थी। यहां पर मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है।

- केरल में बीजेपी की उपस्थिति ना के बराबर है। पिछले कुछ सालों से यहां पार्टी लगातार संघर्ष कर रही है। लेकिन, अब तक कामयाबी नहीं मिली है। केरल में 2016 विधानसभा चुनाव में एलडीएफ को 91 सीटें मिली थी। जबकि, 47 सीटें यूडीएफ के खाते में गई थी।
- तमिलनाडु में मुख्य मुकाबला AIADMK और डीएम के बीच है। 2016 विधानसभा चुनाव में AIADMK को 136 सीटें मिली थी। जबकि, डीएमके के खाते में 89 सीटें गई थी।

- पुडुचेरी में कांग्रेस का राज है। 2016 चुनाव में कांग्रेस ने 15 सीटों पर जीत दर्ज की थी। जबकि, ऑल इंडिया एन आर कांग्रेस को महज आठ सीटें मिली थी। लिहाजा, इन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव का मुकाबला बेहद दिलचस्प होने वाला है। क्योंकि, बीजेपी बिहार चुनाव में मिली सफलता से गदगद है। जबकि, कांग्रेस पार्टी में लगातार अंदरुनी कलह बढ़ती जा रही है। अब देखना ये है कि 2021 में इन पांच राज्यों में कौन सी पार्टी जीत का परचम लहराती है और किसे शिकस्त मिलती है।

ट्रेंडिंग वीडियो