BREAKING : कभी देखा है 100 की रफ्तार में सड़क पर दौड़ती बर्निंग ट्रक, खड़े हो जाएंगे रोंगटे, देखिए वीडियो

- कोई हादसा न हो जाए सोंचकर जलती ट्रक लेकर फुल स्पीड में भागता रहा चालक

By: Shiv Singh

Published: 13 Mar 2018, 07:47 PM IST

रायगढ़. तेंदूपत्ता लोड एक ट्रक खंभे से निकली 11 हजार वोल्ट के तार की चपेट में आ गई। जिससे ट्रक में भरे तेंदूपत्ते में आग लग गई और पूरा ट्रक धू-धू कर जलने लगा। चालक ने बीच बस्ती में जलती ट्रक को छोड़कर भागना मुनासिब नहीं समझा और अपनी बहादुरी दिखाते हुए जलती ट्रक को करीब तीन किमी दूर ले जाकर सड़क किनारे ट्रक को पलट दिया, इसके बाद ट्रक से बाहर निकला।

इस घटना में ट्रक तो पूरी तरह जल कर खाक हो गई, वहीं चालक कुछ हद तक झुलस गया है, लेकिन अन्य लोगों को किसी प्रकार का नुकसान पहुंचने नहीं दिया। हालांकि जलती ट्रक को 100 स्पीड में चलाते हुए बस्ती से बाहर ले जाने पर पूरे सड़क में जलते तेंदूपत्ता के ढेर बिखर गए थे, जिससे ऐसा प्रतीत हो रहा था कि पूरे धरमजयगढ़ क्षेत्र में आग लग गई है। घटना धरमजयगढ़ थाना क्षेत्र की है।

Read More : दोस्तों के साथ साइकिल में जा रहा था परीक्षा देने, ट्रक की चपेट में आया 12वीं का छात्र, गंभीर

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बिलासपुर के पेंड्रा निवासी राकेश सोनी का ट्रक क्रमांक सीजी08 एल 0611 को बिहार निवासी रविन्द्र यादव पिता शिवनाथ यादव चलाता है। 13 मार्च की सुबह रविन्द्र खरसिया से ट्रक में तेंदूपत्ता लोड कर वेस्ट बंगाल जा रहा था। दोपहर करीब 02 बजे जैसे ही ट्रक धरमजयगढ़ गायत्री मंदिर के पास पहुंची तो उसकी ट्राली खंभे से निकले करंट प्रवाहित 11 हजार वोल्ट के तार की चपेट में आ गई। चालक कुछ समझ पाता तब तक तार से चिंगारी निकली और ट्रक में भरे तेंदूपत्ता धू-धू कर जलने लगे। देखते ही देखते पूरे ट्रक में आग लग गई। जब लोगों ने इस घटना को देखा तो ट्रक चालक को आवाज देकर ट्रक से बाहर निकलने को कहा, लेकिन वह नहीं माना।

जन-जीवन का रखा ख्याल
पुलिस ने बताया कि चालक रविन्द्र ने ऐन वक्त पर बहादुरी का काम दिखाया। अगर वह चाहता तो बीच बस्ती जलती ट्रक को वहीं पर छोड़ कर भाग सकता था, लेकिन उसने ऐसा करना मुनासिब नहीं समझा। क्योंकि अगर वह ऐसा करता तो ट्रक ब्लास्ट हो सकती थी, आसपास के घरों में आग लग सकती थी। आवागमन करने वाले भी इसकी चपेट में आ सकते थे। ऐसे में चालक ने हार न मानते हुए चलती ट्रक को करीब 03 किमी दूर तक 100 की स्पीड में चलाता रहा। जब बस्ती समाप्त हुई तो पत्थलगांव रोड में सड़क किनारे ट्रक को पलटी कर दिया। इसके बाद ट्रक से बाहर निकला। इस घटना में चालक भी कुछ हद तक झुलस गया है। जिसे इलाज के लिए धरमजयगढ़ अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

धू-धू कर जल रहा था धरमजयगढ़
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि जब जलती हुई ट्रक 100 की स्पीड में भाग रही थी तो उसके ट्राली से जलते हुए तेंदूपत्ता के ढेर पूरे सड़क पर गिर रहे थे। इसके अलावा किसी घर के आंगन तो किसी के दुकान तक भी आग की लपेटें पहुंच रही थी और पूरा धरमजयगढ़ का इलाका धू-धू कर जल रहा था। दूर से धुएं को देखने पर ऐसा प्रतीत हो रहा था कि पूरे क्षेत्र में आग लग गई है।

घर से निकल कर बुझा रहे थे आग
पुलिस ने बताया कि घटना घटित तो हो चुकी थी, लेकिन जिस तरह जलते हुए तेंदूपत्ता के ढेर सड़कों, घरों पर गिर रहे थे उसे बुझाना भी जरूरी था। नहीं तो अनहोनी घटना घटित हो जाती। ऐसे में घरों से बाल्टी, ड्रम, मग, घड़ा में पानी लेकर निकल रहे थे और आग को बुझाने का प्रयास कर रहे थे।

मच मई थी खलबली
द-बर्निंग ट्रक जब 100 की स्पीड से सड़क पर गुजर रही थी तो मजाल है किसी का सड़क पर चलने की। लोगों के बीच खलबली मच गई थी। लोग दूर से ही ट्रक के जाने का इंतजार कर रहे थे। ऐसे में ट्रक के दोनों छोर लोगों की भीड़ लग गई थी और आग की वजह से कुछ घंटों तक आवागमन बाधित हो गया था।
लाखों का सामान जलकर खाक
इस घटना में ट्रक और ट्रक में रखे तेंदूपत्ता पूरी तरह जलकर खाक हो गए हैं। ऐसे में ट्रक मालिक को लाखों का फटका लगा है। लेकिन जिस प्रकार चालक ने लोगों के लिए अपनी जान जोखिम में डाला है, उसकी सब सराहना कर रहे हैं।

-शार्ट सर्किट से तेंदूपत्ता लोड ट्रक में आग लग गई। देखते ही देखते पूरी ट्रक धू-धू कर जलने लगी। ऐसे में ट्रक को बीच बस्ती में छोडऩा चालक ने मुनासिब नहीं समझा और लोगों की परवाह करते हुए अपनी जान को जोखिम में डाल कर जलती ट्रक को बस्ती के बाहर तक पहुंचाया। इस मामले में आगजनी का अपराध दर्ज हो सकता है।
दिलीप बेहरा, एएसआई, धरमजयगढ़

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned