scriptCG Congress : Tears shed defeated MLA, Dream of billionaire broken | CG Congress : कांग्रेस नेताओं के अरबपति बनने का सपना टूटा... हारे हुए विधायक का छलका आंसू | Patrika News

CG Congress : कांग्रेस नेताओं के अरबपति बनने का सपना टूटा... हारे हुए विधायक का छलका आंसू

locationरायपुरPublished: Dec 24, 2023 10:07:33 am

Submitted by:

Kanakdurga jha

Chhattisgarh Congress : मंत्रियों की कार्यशैली को लेकर भी तीखी नाराजगी सामने आई। एक पदाधिकारी ने पूछ लिया कि क्या 15 साल तक कार्यकर्ताओं ने सिर्फ इसलिए संघर्ष किया था कि सत्ता में आने पर पांच-सात लोग अरबपति बन जाए।

congress_flag.jpg
Congress Party : विधानसभा चुनाव की हार की समीक्षा के लिए शनिवार को बुलाई गई तीन बैठकों में पदाधिकारियों, पूर्व विधायकों और जिला अध्यक्षों का गुस्सा फूट पड़ा। पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज को दो टूक कह दिया कि सत्ता और संगठन में तालमेल नहीं है। (congress party) मंत्रियों की कार्यशैली को लेकर भी तीखी नाराजगी सामने आई। एक पदाधिकारी ने पूछ लिया कि क्या 15 साल तक कार्यकर्ताओं ने सिर्फ इसलिए संघर्ष किया था कि सत्ता में आने पर पांच-सात लोग अरबपति बन जाए।
यह भी पढ़ें

सरकारी शराब में मिलावट किए जाने के मामले में कलेक्टर सख्त, दिए जांच के आदेश, वीडियो हुआ था वायरल




कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में करीब 7 घंटे तक तीन बैठकें हुई। ज्यादातर बैठकों में प्रदेश अध्यक्ष बैज सिर्फ पदाधिकारियों को सुनने की भूमिका में नजर आए। पहली बैठक में करीब दो दर्जन से अधिक संयुक्त महामंत्री और सचिवों ने अपनी बातें रखी। उन्होंने कहा, ज्यादातर मंत्रियों से मुलाकात ही नहीं होती थी। राजीव भवन में मंत्रियों का आना बंद हो गया था। इसका नुकसान उठाना पड़ा। हार के लिए बड़े नेता जिम्मेदार हैं। सत्ता मिलने के बाद संगठन को महत्व ही नहीं दिया गया। जमीनी कार्यकर्ताओं की पूछ-परख नहीं रह गई थी।
प्रेमसाय के सामने ही दिखी नाराजगी

टिकट कटने वाले विधायकों की बैठक में पूर्व मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम भी आए थे। वे भी टिकट कटने से दुखी थे। इसके बावजूद ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर उन्हें भी नाराजगी का सामना करना पड़ा।

जिनको सुनना था वो चले गए
बैठक में एक पदाधिकारी ने कहा, आपको प्रदेश अध्यक्ष बने ज्यादा महीने नहीं हुए है। आप को ज्यादा कुछ बोलने से मतलब नहीं है। जिनको बोलना था, वो तो चले गए। बता दें कि इस समीक्षा बैठक में प्रदेश प्रभारी व प्रभारी सचिव कोई नहीं है। जबकि इन पर पूर्व विधायकों ने कई आरोप लगाए थे।
एक विधायक के आंसू छलके

इस बैठक में जिन विधायकों का टिकट काटा गया था,उनको भी बुलाया गया है। पूर्व विधायकों ने टिकट कटने के कारण को लेकर आपत्ति जताई। (chhattisgarh congress party) उनका कहना है था कि टिकट मिलने पर चुनाव जीत जाते हैं। इस दौरान एक पूर्व महिला विधायक जब अपनी बात रख रही थी, तो उनके आंसू भी निकल पड़े।
यह भी पढ़ें

राजधानी की 88 दुकानों से 18 हजार क्विंटल चावल गायब, सिर्फ 89 सौ क्विंटल ही हुई वसूली



जिलाध्यक्षों ने भी खरा-खरा बोला

जिलाध्यक्षों की बैठक में सत्ता और संगठन को लेकर खुलकर नाराजगी देखने को मिली। जिलाध्यक्ष ने भितरघात करने वालों की जमकर शिकायत की। (congress party) बिलासपुर और महासमुंद के जिलाध्यक्षों ने खुलकर अपनी बातों को रखा। बिलासपुर महापौर वायरल के ऑडियो का मुद्दा भी उठा। इस बात पर भी आपत्ति जताई गई कि उन्हें अभी तक नहीं हटाया गया है। (cg congress) उनका कहना था कि एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने काम नहीं किया है।
अब विधानसभा प्रभारी भी लेंगे बैठक

बैठक के बाद प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा, पार्टी में हर तरह की बातें होती है. ज्यादातर बातें सकारात्मक हैं। अगर कोई बात नहीं रख पाया है तो 28 दिसंबर के बाद कार्यालय में आकर अपनी बात रख सकते है। इसके अलावा हमारे प्रभारी भी सभी जिलों की विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगे और कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे।

ट्रेंडिंग वीडियो