scriptCG Politics : congress politician allegation sailja for lost congress | CG Politics : कांग्रेस पूर्व विधायक के बयान पर मचा बवाल, बोले - हार के लिए सैलजा जिम्मेदार, तत्काल हटाया जाए | Patrika News

CG Politics : कांग्रेस पूर्व विधायक के बयान पर मचा बवाल, बोले - हार के लिए सैलजा जिम्मेदार, तत्काल हटाया जाए

locationरायपुरPublished: Dec 09, 2023 12:44:00 pm

Submitted by:

Kanakdurga jha

Chhattisgarh Politics : अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले पूर्व विधायक बृहस्पत सिंह ने कांग्रेस की हार के बाद प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा और टीएस सिंहदेव को लेकर बड़ा बयान दिया है। बृहस्पत के बयान के बाद उनके निष्कासन की मांग भी उठने लगी है।

sailja.jpg
Chhattisgarh Politics : अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले पूर्व विधायक बृहस्पत सिंह ने कांग्रेस की हार के बाद प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा और टीएस सिंहदेव को लेकर बड़ा बयान दिया है। एक टीवी चैनल में उन्होंने कहा, राहुल गांधी से आग्रह करुंगा की तत्काल यहां की प्रभारी को हटा दें। पिछले प्रभारियों ने ईमानदारी के साथ काम किया था। जबकि इन्होंने कभी डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश नहीं की। इसलिए छत्तीसगढ़ में यह नौबत आई हैं। बृहस्पत के बयान के बाद उनके निष्कासन की मांग भी उठने लगी है।
यह भी पढ़ें

Bulldozer Action In Chhattisgarh : नहीं रहा बुलडोजर का खौफ... इन जगहों पर दोबारा खुल गई अवैध दुकानें

सरगुजा में कांग्रेस का सफाया होने पर सिंह ने कहा, टिकट देने से कोई चुनाव नहीं जीतता है। कार्यकर्ताओं का सहयोग जरूरी है। कांग्रेस के नेताओं का घमंड सर चढ़कर बोल रहा था। ऐसा लग रहा था कि जिसे टिकट दे देंगे वो चुनाव जीत जाएगा। छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम मंच से बोल रहे थे कि मोदी से अच्छा काम कर रहे हैं, तो कांग्रेस को क्यों वोट मिलेगा। उन्होंने यह भी दावा किया है कि यदि सिंहदेव सीएम बनते तो कांग्रेस भी भाजपा की तरह 15 सीट पर सिमट जाती।
यह भी पढ़ें

Road Accident : लापरवाही ने दी मौत को दस्तक... अखबार बेचने वाले मासूम को कार ने मारी टक्कर, गिरफ्तार


आरोप झूठे और मनगढ़ंत

बृहस्पत के बयान के बाद कांग्रेस नेता कन्हैया अग्रवाल और जागेश्वर राजपूत ने पूर्व विधायक बृहस्पत तत्काल प्रभाव से निष्कासित करने की मांग की है। उन्होंने कहा, सिंह ने झूठे और मनगढ़ंत गंभीर आरोप लगाए हैं। ऐसे में तत्काल कार्रवाई नहीं किए जाने से अनुशासनहीनता लगातार और बढ़ेगी ।

ट्रेंडिंग वीडियो