कंपनियों ने बीएस-4 दोपहिया वाहन पर घटाया डिस्काउंट, सर्वश्रेष्ठ ऑफर बाजार में उपलब्ध

बीएस-4 मॉडल की दोपहिया वाहन खरीदकर 8500 रुपए तक की बचत कर सकते हैं

रायपुर. ऑटोमोबाइल कंपनियों ने भारत स्टेज-4 गाडिय़ों पर डिस्काउंट घटाना शुरू कर दिया है। इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है कि कंपनियों के पास बीएस-4 गाडिय़ों की अब बहुत कम इनवेंट्री बची है। इन वाहनों की बिक्री नए इमिशन नियमों के लागू होने के साथ बंद हो जाएगी। ऐसे में कंपनियों ने डिस्काउंट को घटाना शुरू कर दिया है।
वहीं भारत में 1 अप्रैल से बीएस-6 वाहन अनिवार्य किए जाएंगे और बेचे जाएंगे। बीएस-6 वाहन भारत स्टेज 6 भी कहलाते हैं, जो दुनिया के सबसे सख्त उत्सर्जन नियमों पर आधारित है। बाजार में लॉन्च किए गए बीएस-6 दोपहिया वाहनों का विश्लेषण करें तो बीएस-6 नियमों पर खरा उतरने के लिए दोपहिया वाहन की औसत कीमत 10 से 15 फीसदी बढ़ जाती है।
वर्तमान में उपलब्ध बीएस-4 वर्जन की कीमत बीएस-6 की तुलना में 10 से 15 फीसदी कम है। बीएस-4 मॉडल की दोपहिया वाहन खरीदकर 8500 रुपए तक की बचत कर सकते हैं। बीएस-4 और बीएस-6 के बीच कीमत अंतर से लाभ उठाया जा सकता है। मान लिया जाए कि 110 सीसी बीएस-6 मोटरसाइकिल या स्कूटर के लिए तय किए हैं तो इससे कम लागत पर अपने वाहन को 125 सीसी बीएस-4 दोपहिया वाहन को अपग्रेड कर सकते हैं।
2017 में अचानक बीएस-3 से बीएस-4 में हुए बदलावों के विपरीत इस बार दोपहिया कंपनियां पहले से तैयार हैं। होण्डा निर्धारित तिथि से तकरीबन 6 महीने पहले अपना पहला बीएस-6 मॉडल बाजार में उतारने वाली पहली कंपनी थी और फरवरी 2020 से सिर्फ बीएस-6 मॉडल्स ही बनाएगी।
इसी तरह इस महीने कई अन्य निर्माता जैसे सुजुकी, टीवीएस आदि भी बीएस-4 मॉडल्स का उत्पादन बंद कर देंगे। ऐसे में डीलरशिप्स में बीएस-4 मॉडल्स की सीमित यूनिट्स ही उपलब्ध हैं और इन्हें खरीदने वालों की संख्या अधिक है। इस समय सर्वश्रेष्ठ ऑफर बाजार में उपलब्ध हैं।

Alert - 31 मार्च के बाद नहीं बिकेंगे BS4 वाहन, 1 अप्रैल से BS6 अनिवार्य, ऑटो कंपनियों को सुपीम कोर्ट का झटका

ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned