अब एटीएम मशीन भी सुरक्षित नहीं, दूसरों के खाते से भी पैसा निकाल रहे हैं ठग

गुढि़यारी के अलावा टिकरापारा और मुजगहन इलाके के एटीएम बूथ से भी इसी तरह तरीके से लाखों रुपए निकाला गया है। फिलहाल पुलिस अपराध दर्ज करके आरोपियों की तलाश में जुट गई है। कुछ एटीएम बूथ से मिलने संदिग्ध फुटेज के आधार पर संदेहियों की तलाश की जा रही है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 22 Nov 2020, 08:41 PM IST

रायपुर. शहर में अब एटीएम मशीन भी सुरक्षित नहीं है। ठग एटीएम मशीन में तकनीकी छेड़छाड़ करके दूसरों के खातों से रकम पार कर रहे हैं। ठगों ने कई एटीएम मशीनों से रकम पार किया है। इसकी जानकारी होने पर एक बैंक प्रबंधन ने गुढि़यारी थाने में अपराध दर्ज कराया है। पुलिस ने अज्ञात ठगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस के मुताबिक 30 सितंबर को गुढि़यारी में स्थित केनरा बैंक के एटीएम मशीन में छेड़छाड़ की गई और 16 बार में 10-10 हजार रुपए का आहरण कर लिया। राशि निकालने के लिए आरोपियों ने एचडीएफसी और एक्सिस बैंक के क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल किया था।

बहु की हत्या में शामिल सास हुई गिरफ्तार, गौरेला पुलिस की कार्रवाई

यह राशि कैनरा बैंक के किन-किन लोगों के खाते से निकली है? इसका पता लगाया जा रहा है। एटीएम मशीन में तकनीकी छेड़छाड़ का पता चलने के बाद इसकी शिकायत गुढि़यारी थाने में दर्ज कराई गई है। पुलिस ने अज्ञात ठगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।

तीन जगह से लाखों का खेल

पुलिस की प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ है कि ठगों का एेसा गिरोह सक्रिय है, जो बेहद चालाकी से एटीएम की राशि पार कर रहा है। गुढि़यारी के अलावा टिकरापारा और मुजगहन इलाके के एटीएम बूथ से भी इसी तरह तरीके से लाखों रुपए निकाला गया है। फिलहाल पुलिस अपराध दर्ज करके आरोपियों की तलाश में जुट गई है। कुछ एटीएम बूथ से मिलने संदिग्ध फुटेज के आधार पर संदेहियों की तलाश की जा रही है।

ऐसे करते हैं ठगी

इस तरह की ठगी करने वाला गिरोह करीब तीन साल पहले भी रायपुर में वारदात कर चुका है। इसमें आरोपी एटीएम बूथे से पैसा निकालने के तत्काल बाद एटीएम बूथ का पॉवर सप्लाई बंद कर देते हैं, जिससे मशीन बंद हो जाती है। मशीन बंद होने के कारण उसमें निकाली राशि अपडेट नहीं हो पाती है और संबंधित खाते में पुरानी राशि ही दिखाई देती है।

खाते से निकाली राशि का पता नहीं चलता। ठग गिरोह इस तरह की प्रक्रिया कई बार दोहराते हैं। इससे संबंधित खाते से वे रकम तो निकाल लेते हैं, लेकिन मशीन बंद होने के चलते निकली राशि अपडेट नहीं होती है। और खाते में पूरी राशि पहले जितनी ही रहती है।

तलाश में लगी पुलिस

इस तरह की ठगी के मामले सामने आने के बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। संदिग्धों की तलाश में पुलिस की टीम शहर से बाहर भी गई है। आशंका है कि मामले में पुराने गिरोह का ही हाथ है। और कई बैंकों के एटीएम में इस तरह की धोखाधड़ी की गई है। फिलहाल कैनरा बैंक प्रबंधन का मामला ही सामने आया है।

ये भी पढ़ें: वैगन से 3 बंडल बारदाना चोरी, 6 आरोपी व 1 खरीदार गिरफ्तार एक फरार

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned