scriptParents are worried about the safety of children | रेलवे ठेकेदार की लापरवाही से गिरी मिडिल स्कूल की बाउंड्रीवाल, महीनों बाद भी नहीं बनने से पालकों में रोष | Patrika News

रेलवे ठेकेदार की लापरवाही से गिरी मिडिल स्कूल की बाउंड्रीवाल, महीनों बाद भी नहीं बनने से पालकों में रोष

locationरायपुरPublished: Dec 28, 2023 03:46:51 pm

Submitted by:

Gulal Verma

नवापारा राजिम नगर के वार्ड क्रमांक 1 गोबरा बस्ती के प्रवेश द्वार पर नवनिर्मित रेलवे अंडरब्रिज से चंद कदम की दूरी पर स्थित शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला की बाउंड्रीवाल गिर जाने से वहां अध्ययनरत बच्चों के पालकों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर काफी रोष है।

रेलवे ठेकेदार की लापरवाही से गिरी मिडिल स्कूल की बाउंड्रीवाल, महीनों बाद भी नहीं बनने से पालकों में रोष
नवापारा राजिम नगर के वार्ड क्रमांक 1 गोबरा बस्ती के प्रवेश द्वार पर नवनिर्मित रेलवे अंडरब्रिज से चंद कदम की दूरी पर स्थित शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला की बाउंड्रीवाल गिर जाने से वहां अध्ययनरत बच्चों के पालकों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर काफी रोष है।
क्या है पूरा मामला
नवापारा रेलवे स्टेशन के नेरो गेज से ब्राड गेज का कार्य आरएसए इंफ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा किया जा रहा है। नगर के गोबरा बस्ती के प्रवेश द्वार पर स्थित शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला स्थित है। जिसकी कुलदर्ज संख्या 66, शिक्षकों की संख्या 6 हैं। जिसकी बाउंड्रीवाल के किनारे बारिश के पूर्व ही उक्त ठेकेदार द्वारा लगभग 20 फीट गहरा गड्ढा खोद दिया गया था। जिसमें 100 से अधिक की संख्या में लोहे की छड़ भी निकली हुई है। गड्ढे में बारिश का पानी भर जाने से स्कूल की बाउंड्रीवाल पूरी तरह से टूट गई है। जिससे बच्चों की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है।
पालकों ने बनाया आंदोलन का मन, सौंपा ज्ञापन
स्कूल में अध्ययनरत बच्चें गुलशन साहू, प्रशांत यादव, भारत यादव, इशांत यादव, यामिनी साहू के पालक रवि साहू, रोहित साहू, गणेशु यादव, आनंद साहू, यशवंत साहू ने बताया कि हम सभी पालकों ने मुख्यमंत्री, विधायक अभनपुर, कलेक्टर रायपुर, एसडीएम, तहसीलदार, सीएमओ, थाना प्रभारी, रेलवे ठेकेदार, वार्ड पार्षद व प्रधान पाठक के नाम ज्ञापन सौंपकर जल्द से जल्द बाउंड्रीवाल निर्माण की मांग की है। मांग पूरी नहीं होने पर बच्चों सहित भूख हड़ताल और अनशन करने बाध्य होंगे। जिसकी समस्त जवाबदारी शासन, प्रशासन और रेलवे ठेकेदार की होगी।
आम जनता भी है बेबस
स्कूल से लगे मकान मालिक रवि साहू, रोहित साहू सहित अन्य ने बताया कि उक्त गड्ढे के कारण पूरी बारिश और अभी भी गंदगी, कीचड़ और बदबू से बेहाल हो गए हैं। पाइप भी टूट गई थी। जिसके कारण 25 दिन से अधिक पानी की सप्लाई बाधित रही। बार-बार ठेकेदार से आग्रह करने पर भी स्थिति में कोई भी सुधार नहीं है। बता दें कि स्कूल परिसर में ही पानी टंकी बनी है,जिससे पूरे गोबरा बस्ती में पानी की सप्लाई होती है। जो की बाउंड्रीवॉल से लगी हुई है। पहले जीआई पाइप लगी थी, जो खुदाई के दौरान क्षतिग्रस्त हो गई। अभी प्लास्टिक पाइप लगा दी गई है।
ये कहना है जिम्मेदारों का

4 जुलाई को विकासखंड शिक्षा अधिकारी तथा 11 जुलाई को सीएमओ को लिखित सूचना देकर बाउंड्रीवाल गिरने की घटना से अवगत करा दिया गया था, परंतु अब तक कोई समाधान नहीं हो पाया है।
- रवि शंकर साहू, प्रधानपाठक

निर्माण या मरम्मत का कार्य बीआरसीसी द्वारा कराया जाता है। मैं उनको निर्देशित कर समाधान निकालता हूं।
- अजय कुमार वर्मा, विकासखंड शिक्षा अधिकारी


जैसे ही आवेदन प्राप्त हुआ, वैसे ही मैंने आवेदक के सामने रेलवे ठेकेदार गौरव अग्रवाल को बार बार फोन लगाया। परंतु उनका फोन स्विच ऑफ था।
- संतोष विश्वकर्मा, सीएमओ, नगर पालिका परिषद गोबरा नवापारा

वहां पर संपवेल तथा पंप हाउस बनना है।उसी के साथ बाउंड्रीवाल भी बन जाएगा। जो कि फरवरी माह तक ही बन पाएगा।
- विनय सिंह, रेलवे ठेकेदार के प्रोजेक्ट इंचार्ज

ट्रेंडिंग वीडियो