script आचार संहिता हटते ही प्रशासन हरकत में, बुलडोजर से चखना दुकानों को कर दिया नेस्तनाबूद | Swift action to remove encroachment, encroachers in panic | Patrika News

आचार संहिता हटते ही प्रशासन हरकत में, बुलडोजर से चखना दुकानों को कर दिया नेस्तनाबूद

locationरायपुरPublished: Dec 07, 2023 03:49:31 pm

Submitted by:

Gulal Verma

आचार संहिता हटते ही प्रशासन ने अचानक नवापारा राजिम में कब्जाधारियों को चौबीस घंटे की मौखिक मोहलत देकर कब्जा हटाने अल्टीमेटम दिया. जिसके बाद हरिहर स्कूल के सामने बाउण्ड्रीवाल से लगे दुकानदार स्वयं ही कब्जा हटाना प्रारंभ कर दिए हैं. जिससे लोगों में नाराजगी भी देखी गई. बीती रात शराब दुकान के आसपास चल रहे कई चखना सेन्टरों को आनन-फानन में बिना जानकारी के बुलडोजर के माध्यम से नेस्तनाबूद कर दिया गया.

आचार संहिता हटते ही प्रशासन हरकत में, बुलडोजर से चखना दुकानों को कर दिया नेस्तनाबूद
आचार संहिता हटते ही प्रशासन ने अचानक नवापारा राजिम में कब्जाधारियों को चौबीस घंटे की मौखिक मोहलत देकर कब्जा हटाने अल्टीमेटम दिया. जिसके बाद हरिहर स्कूल के सामने बाउण्ड्रीवाल से लगे दुकानदार स्वयं ही कब्जा हटाना प्रारंभ कर दिए हैं. जिससे लोगों में नाराजगी भी देखी गई. लेकिन भय इतना था कि बीती रात शराब दुकान के आसपास चल रहे कई चखना सेन्टरों को आनन-फानन में बिना जानकारी के बुलडोजर के माध्यम से नेस्तनाबूद कर दिया गया.
मंगलवार को रात अधिक हो जाने व बिजली तार का कनेक्शन होने के कारण बाकी बचे दुकानों को बुधवार सुबह तक के लिए कब्जा हटाने का काम रोक दिया गया. सुबह होते ही कब्जाधारियों व्दारा स्वयं ही कब्जा हटा लिया गया. इसी तरह की कार्रवाई भय से हरिहर स्कूल के सामने के दुकानदार स्वयं ही अपनी दुकानें हटा लीं. वहीं, बिजली विभाग के कर्मचारी खंभे पर चढक़र लाइन काटते नजर आए.
दुकानदारों व्दारा अपना दुखड़ा नगरपालिका अध्यक्ष धनराज मध्यानी के सामने रखी। जिस पर श्रीमध्यानी ने स्पष्ट कहा कि चूंकि आदेश कलेक्टर, एसडीएम का है, इसलिए इस पर मैं कुछ नहीं कर सकता. दुकान संचालकों ने पूर्व विधायक धनेन्द्र साहू को भी फोन लगाकर गुहार लगाई. जिस पर साहू ने एसडीएम जगन्नाथ वर्मा को एक लिखित ज्ञापन देकर कहा कि गोबरा नवापारा के हाईस्कूल के सामने व राजिम पुल के पास कई स्थानों पर अत्यंत गरीब परिवार के लोगों द्वारा गुमटी व ठेला लगाकर विगत कई वर्षों से व्यवसाय कर जीवन यापन किया जा रहा है। आपके द्वारा सीएमओ के माध्यम से मौखिक सूचना देकर हटाए जाने की कार्रवाई किए जाने की जानकारी प्राप्त हुई है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि गरीब परिवारों को जीवन यापन में कोई परेशानी न हो। इसलिए, व्यवस्थापन करने के बाद ही ठेला, गुमटी हटाने की कार्रवाई करेंगे।
नगरपालिका कार्यालय के पीछे विगत पंाच वर्ष पूर्व अवैध रूप से बनाए गए 13 दुकानों को नगरपालिका व्दारा सील किया गया था, जिस पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है, इस पर भी नागरिकों ने कार्रवाई करने की मांग एसडीएम से की है.
इस संबंध में एसडीएम जगन्नाथ वर्मा को फोन करने पर रिसीव नहीं किया। वहीं, नायब तहसीलदार वसुमित्र दीवान ने कहा कि एसडीएम वर्मा व्दारा हरिहर स्कूल के सामने व राजिम पुल के समीप लगे कपड़ा दुकानों के संचालकों भी 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया गया है। नगर में कहीं पर भी अवैध गुमटियंा या कब्जाधारी रहेंगे, उन्हें तत्काल हटाया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो