एससीएसटी एक्ट के विरोध में बंद रहा पूरा जिला

एससीएसटी एक्ट के विरोध में बंद रहा पूरा जिला

Satish More | Publish: Sep, 07 2018 11:33:41 AM (IST) Raisen, Madhya Pradesh, India

जगह-जगह रैली और नारेबाजी के बीच प्रशासन को ज्ञापन सौंपे गए अधिकतर नगरों में बंद का पूरा असर रहा

रायसेन. एससीएसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण समाज के बंद के आह्वान पर जिलेभर में बंद का अभूतपूर्व असर रहा। बिना किसी विवाद के लोगों ने अपनी मर्जी से अपने प्रतिष्ठान बंद कर रखे। जगह-जगह रैली और नारेबाजी के बीच प्रशासन को ज्ञापन सौंपे गए।

अधिकतर नगरों में बंद का पूरा असर रहा। रायसेन में स्कूल, कॉलेज, आईटीआई भी बंद रहीं। यात्री बसें भी सडक़ों पर बहुत कम संख्या में दिखाई दीं। सपाक्स के बंद को बड़े पैमाने पर समर्थन मिला है।

पूरी स्थिति पर नजर रखने के लिए प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस बल भ्रमण करता रहा। रायसेन, बरेली में धारा 144 लागू की गई थी। यहां पुलिस और प्रशासन अधिक मुस्तैदी से डटा रहा। बंद के समर्थन में राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता भी सक्रियता से शामिल हुए। लोगों का कहना है कि एट्रोसिटी एक्ट एक काला कानून है, जिसके विरोध में सभी को सामने आना चाहिए।

बंद के समर्थकों ने एक दिन पहले प्रशासन को सूचना देकर व्यापारी संघ से सहयोग मांगा था। गुरुवार को सुबह से ही सभी दुकानें बंद रहीं। देर शाम तक रायसेन के बाजार बंद ही रहे।

बंद की जानकारी होने के कारण लोग एक दिन पहले ही अपने जरूरी काम निपटा चुके थे, लिहाजा बंद के दौरान किसी को परेशानी भी नहीं हुई। सुबह सपाक्स के पदाधिकारी महामाया चौक पर जुटे।

इसके बाद रैली में शामिल होकर नारेबाजी करते हुए शहर के प्रमुख मार्गों से गुजरे। प्रशासनिक अमला व पुलिस अधिकारी पूरे समय सतर्क रहे। जिले की तहसीलों, कस्बों में सपाक्स का महाबंद पूरी तरह से सफल रहा। यहां तक कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी बंद का असर दिखाई दिया।

शाम 5 बजे एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
सपाक्स के पदाधिकारियों ने ज्ञापन देने के पहले महामाया चौक पर बापू की प्रतिमा के सामने राष्ट्रगान गाया। फिर राष्ट्रपति के नाम संबोधित छह सूत्रीय मांगों का ज्ञापन एसडीएम एमपी बरार को सौंपा।

इस अवसर पर सराफा व्यापारी चंद्रमोहन गोयल, कृष्ण मोहन चतुर्वेदी, बंटी माहेश्वरी, संजय गुप्ता, विजय सिंह राठौर, चंद्रकृष्ण रघुवंशी, अनिल चौरसिया, राजीव तिवारी, अशोक श्रीवास्तव, राहुल परमार, रमन यादव, राहुल परमार, मोहन चक्रवर्ती, रायसेन व्यापार महासंघ के अध्यक्ष संतोष साहू, हल्ले महाराज आदि मौजूद थे।

नगर बंद कर आमसभा के बाद दिया ज्ञापन
बेंगमगंज. आरक्षण के विरोध में देश व्यापी बन्द के समर्थन में आधा दिन तक नगर बन्द के बाद सपाक्स एवं सामान्य एवं पिछड़ा वर्ग के संगठनों द्वारा कबीट चौराहे से एक रैली निकालकर राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार को ज्ञापन दिया। एससी एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध के साथ नौकरियों में पदोन्नति के आरक्षण का भी तीखा विरोध करते हुए इसको रोकने की मांग की। इस दौरान चाय, पान की दुकानों के साथ स्कूल भी पूर्णत: बंद रहे।आमसभा को युवा नेता सन्दीप विश्वकर्मा, पुष्पेंद्र जैन, रवि शर्मा, हिन्दू उत्सव समिति अध्यक्ष बसन्त शर्मा, कृषि मंडी उपाध्यक्ष माधो सिंह लोधी, स्वदेश गुप्ता, बृजराज जाट आदि ने संबोधित किया। सभा स्थल पर तहसीलदार शत्रुघन सिंह को आंदोलनकारियों द्वारा ज्ञापन दिया गया। बंद को व्यापार महासंघ, ड्रग केमिस्ट एसोसिएशन, फल सब्जी विक्रेता संघ, अनाज तिलहन व्यापारी संघ, किराना मर्चेन्ट एसोसिएशन, सर्राफ एसोसिएशन, अभिभाषक संघ, जैन युवा संगठन, कायस्थ महासभा, ब्राह्मण महासभा एवं पिछड़ा वर्ग संगठन के लोगों ने समर्थन दिया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned