चिटफंड कंपनी बनाकर ठगी, खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष गिरफ्तार, थानेदार से भिड़े भाजपाई, जमकर हुई कहासुनी

रकम दोगुनी करने का झांसा देकर लाखों रुपए की ठगी करने के मामले में पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले समेत चार लोगों को हिरासत में लिया है। (chit fund company fraud in chhattisgarh)

By: Dakshi Sahu

Published: 06 Jul 2020, 11:59 AM IST

राजनांदगांव. जिले के खैरागढ़ इलाके में दर्जनों ग्रामीणों से रकम दोगुनी करने का झांसा देकर लाखों रुपए की ठगी करने के मामले में पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले समेत चार लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं इस पूरे मामले का मास्टर माइंड तरूण साहू समेत तीन फरार हैं। गिरफ्तारी के विरोध को लेकर जिला पंचायत उपाध्यक्ष सहित कई भाजपाई थाने पहुंच गए। उन्होंने पुलिस कार्रवाई के खिलाफ विरोध दर्ज कराया।

चार लोगों को किया गिरफ्तार
खैरागढ़ के ग्रामीण इलाकों में करीब 10 साल के भीतर चिटफंड कंपनी के जरिए आरोपियों ने बड़ी रकम लोगों से ऐंठ ली है। रकम वापस करने की मियाद पूरी होने से पहले ही कंपनी ने अपना बोरिया-बिस्तर समेट लिया। लाखों रुपए का चपत लगने के बाद लोगों ने पुलिस में मामले की शिकायत की। आरोपियों के खिलाफ धारा 420, चिट फंड अधिनियम 3,4,5 और छग के निवेशकों के हितों के संरक्षण अधिनियम 10 के तहत नामजद सात में चार आरोपितों को हिरासत में लेकर विशेष न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

भाजपाईयों ने किया प्रदर्शन
आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भाजपाइयों ने खैरागढ़ थाने में रविवार को विरोध प्रदर्शन किया। भाजपाइयों ने कहा कि शिकायत के आधार पर बिना जांच किए सीधे एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई कर दी गई है। भाजपाइयों ने इसे राजनीतिक षड्यंत्र करार दिया। बदले की कार्रवाई बताते हुए जांच की मांग की।

कराया था अलग-अलग ब्याज दर पर पैसा जमा
मिली जानकारी के मुताबिक खैरागढ़ भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले और उसके साथी तरूण साहू (अर्जुन्दा बालोद), राजकुमार साहू (खैरागढ़), चम्मनदास साहू (अर्जुन्दा बालोद), सत्यपाल वर्मा (चीचा दुर्ग), रंजीत सोनकर (बालाघाट), राजेन्द्र स्वान्सी (रांची) ने सर्वोदय मल्टीट्रेड लिमिटेड कंपनी के अधीन माईक्रो इन्वेसमेंट का डायरेक्टर बनकर खैरागढ़ क्षेत्र में लोगों से मासिक, छैमासी, सालाना, पांच वर्ष तथा 15 वर्ष के लिए अलग-अलग ब्याज दरों पर रकम जमा कराया।

रकम दोगुनी होने का दिया झांसा
लोगों को निवेश कराने के दौरान आरोपियों ने दोगुना तथा 8 गुना रकम वापस मिलने का झांसा दिया। इस दौरान खैरागढ़ में संचालित ब्रांच में आसपास के दर्जनों ग्रामीणों ने लाखों रुपए जमा कराए। इन्हीं निवेशकों में एक खिलावन चंद्राकर द्वारा 2011 से लगातार 2019 तक साढ़े 7 लाख रुपए सपत्नीक जमा कराया। वहीं एक और हितग्राही रामप्रसाद पटेल ने भी 9 लाख रुपए कंपनी में निवेश किए। इसी तरह अलग-अलग गांव के लोगों ने भी कंपनी में करीब 35 लाख रुपए का निवेश किया। इसके ठीक बाद कंपनी एकाएक अपना कारोबार छोड़कर रफू चक्कर हो गई, तब से निवेशक रकम के लिए ब्रांच का चक्कर लगा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि भाजपा मंडल अध्यक्ष कमलेश कोठले ने अपने राजनीतिक प्रभाव के जरिए लोगों को निवेश कराने के लिए प्रोत्साहित किया। वहीं दीगर जिलों के कथित डायरेक्टरों को कोठले का भरपूर साथ मिला। अब पूरा मामला पुलिस तक पहुंच गया है।

थानेदार से हुई कहासुनी
शिकायत आवेदन में फौरी कार्रवाई करते हुए शहर मंडल अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष नगरपालिका व पार्षद वार्ड नं 14 सोनेसरार कमलेश कोठले की गिरफ्तारी से नाराज प्रदेश भाजयुमो उपाध्यक्ष व जिपं उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह, जिला पंचायत सदस्य व सभापति धम्मन साहू, वीरेंद्र जैन, नपा उपाध्यक्ष रामाधार रजक, प्रकाश ठाकुर, नित्यप्रकाश सिंह, सूर्यदमन सिंह, आशीष सिंह, सहित पचास से ज्यादा मंडल और भाजयुमो के कार्यकर्ता थाने पहुंचे ,जहां थाना प्रभारी लोमेश सोनवानी के साथ जमकर कहासुनी हुई, जिपं उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार के इशारे पर भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ चुन-चुनकर कारवाई की जा रही है।

इस संबंध में खैरागढ़ एसडीओपी जीसी पति ने कहा कि मंडल अध्यक्ष कोठले समेत 4 को फिलहाल हिरासत में लिया गया। तीन अन्य आरोपी की खोजबीन की जा रही है। पूरे मामले का पर्दाफाश होने के बाद पुलिस डायरेक्टरों की पृष्ठभूमि को लेकर जानकारी जुटा रही है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned