script रामपुर कोर्ट ने एसपी को दिए आदेश, जयाप्रदा को गिरफ्तार कर करें पेश, जानें वजह | Rampur court orders SP to arrest Jayaprada and produce her | Patrika News

रामपुर कोर्ट ने एसपी को दिए आदेश, जयाप्रदा को गिरफ्तार कर करें पेश, जानें वजह

locationरामपुरPublished: Dec 12, 2023 08:23:57 am

Submitted by:

Mohd Danish

Rampur News: आचार संहिता के उल्लंघन के दो मामलों में पूर्व सांसद जयाप्रदा को एमपी-एमएलए कोर्ट ने झटका दिया है।

Rampur court orders SP to arrest Jayaprada and produce her
Rampur News Today: कोर्ट ने उनके अधिवक्ता की दलील को खारिज करते हुए गैर जमानती वारंट जारी रखने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही एसपी को पत्र लिखकर उनकी गिरफ्तारी कर कोर्ट में पेश करने को कहा है।
2019 का है मामला
पूर्व सांसद जयाप्रदा के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के दो केस दर्ज हैं। कोर्ट में बयान दर्ज करवाने के लिए पूर्व सांसद नहीं पहुंच रही हैं। अब कोर्ट ने रामपुर के एसपी को जयाप्रदा को गिरफ्तार कर पेश करने को कहा है। कोर्ट की ओर से उनके जमानतियों को भी नोटिस जारी किए हैं। अब इस मामले की सुनवाई 19 दिसंबर को होगी। स्वार और केमरी थाने में लोकसभा चुनाव के दौरान पूर्व सांसद जयाप्रदा के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में 2019 में दो मुकदमे कायम कराए गए थे। यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है।
यह भी पढ़ें

यूपी में सर्द हुईं रातें, पछुआ हवाओं ने पांच डिग्री तक पहुंचाया पारा, जानें मौसम अपडेट

कोर्ट कर चुका है गिरफ्तारी वारंट जारी
स्वार में दर्ज एक मामले में अभियोजन की गवाही पूरी हो चुकी है और पूर्व सांसद को अपने बयान दर्ज कराने हैं। इसके बाद भी वह बयान दर्ज कराने कोर्ट नहीं पहुंच रही है। केमरी थाने में दर्ज आचार संहिता उल्लंघन के मामले में अभियोजन की गवाही चल रही है। लेकिन पूर्व सांसद इस केस में कोर्ट में हाजिर नहीं हुई। कोर्ट लगातार दोनों मामलों में गिरफ्तारी वारंट जारी कर चुकी है। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता असगर ने पूर्व सांसद की ओर से गैर जमानती वारंट को निरस्त करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया। इसका अभियोजन की ओर से विरोध किया गया।
अब 19 दिसंबर को होगी सुनवाई
दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने पूर्व सांसद का प्रार्थना पत्र खारिज करते हुए उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया है। साथ ही पुलिस अधीक्षक को आदेश दिए हैं कि आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करें। कोर्ट ने उनके जमानतियों को भी नोटिस जारी किया है। इस मामले की अगली सुनवाई 19 दिसंबर को होगी।

ट्रेंडिंग वीडियो