हथियारबंद बदमाशों ने शराब दुकान में की तोड़फोड़ और मारपीट, CCTV में कैद हुई हैरान कर देने वाली तस्वीर

रतलाम में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हैं, इसका ताजा माला शहर के नामली इलाके में देखने को मिला। यहां शराब दुकान के कर्मचारियों के साथ 5-6 बदमाशों ने मारकीट की, घटना का CCTV फुटेज भी सामने आया है।

By: Faiz

Published: 27 Sep 2021, 05:44 PM IST

रतलाम. मध्य प्रदेश के रतलाम में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हैं, इसका ताजा माला शहर के नामली इलाके में देखने को मिला। यहां स्थित सरकारी शराब दुकान पर आए 5 से 6 बदमाशों ने कर्मचारियों के साथ जमकर मारपीट तो की ही, साथ ही दुकान में भी तोड़फोड़ कर दी। बताया जा रहा है कि, हथियारबंद बदमाशों ने मोबाइल पेमेंट को लेकर कर्मचारियों से विवाद किया, इसके बाद उनके साथ मारपीट की। घटना के सीसीटीवी फुटेज दुकान पर लगे कैमरे में भी कैद हो गया। मारपीट से दुकान के 3 कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घटना रविवार रात की बताई जा रही है। बावजूद इसके अब तक फरियादी एफआईआर दर्ज नहीं की गई है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार, घटना रविवार रात 10 बजे की बताई जा रही है। जहां नामली में स्थित एक सरकारी शराब दुकान पर 5 से 6 बदमाशों ने कर्मचारियों से पेमेंट को लेकर विवाद किया। विवाद इतना बढ़ा कि, बदमाश कर्मचारियों के साथ मारपीट पर उतर आे। घटना में शराब ठेकेदार का भाई कमल सिंह, सोहनसिंह सेमलखेड़ा, और अटेसिंह बाजेड़ा गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिन्हें उपचार के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- बेटी से शादी कराने से किया इंकार तो ट्रेक्टर चढ़ाकर ले ली जान


मामले में रसूखदार राजनेता भी आरोपी

वहीं, ये पूरी घटना दुकान के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया, जिसका वीडियो सुबह से ही सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहा है। मामले को लेकर फरियादी पुलिस से एफआईआर की मांग कर रहें हैं, लेकिन पुलिस द्वारा अब तक इसपर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। सूत्रों की मानें, तो हमलावर वदमाशों के संबंध नामली के एक रसूखदार राजनेता से जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि इस विवाद में वो भी आरोपी हैं, जिनपर अवैध शराब बिक्री एवं और अन्य अवैध गतिविधियों तक के आरोप लग चुके हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- तालाब में डूबने से 2 बच्चों की मौत, इलाके में मातम, लगातार बढ़ रहे हैं यहां हादसे


पुलिसिया कार्रवाई पर उठे सवाल

घटना 12 घंटे बाद भी नामली पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है, जिसके चलते पुलिस डिपार्टमेंट भी सवालों के घेरे में आ रहा है। मामले पर फरियादी ने शिकायत कर घटना से संबंधित वीडियो थाने में जमा भी करा दिये हैं। साथ ही फरियादी द्वारा कहा गया है कि, इस मामले में वो भी आरोपी हैं जिनपर अवैध शराब बेचने के आरोप हैं और जिन्होंने पूर्व में एक पुलिस दरोगा पर भी हमला किया था, फिर भी पुलिस ने अब तक मामले पर शिकायत दर्ज नहीं की गई है। इस बात से अंदाजा लगाया जा रहा है कि, पुलिस किसी दबाव में आकर पर्याप्त कार्रवाई नहीं कर रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned