बेटे की याद में किसान पिता ने गांव में बनवा दिया लाखों का अस्पताल

बेटे की पुण्यतिथि पर पिता ने गांव में बनवा दिया 10 बेड का अस्पताल, दो साल पहले हुई थी हादसे में बेटे की मौत...

By: Shailendra Sharma

Published: 24 Dec 2020, 03:54 PM IST

रतलाम. बेटे की याद में किसान पिता के लाखों रुपए का अस्पताल बनाने का ये मामला रतलाम जिले का है। जहां धराड़ गांव में रहने वाले किसान हेमेन्द्र पाटीदार ने अपने 20 साल के बेटे की याद में गांव में ही अस्पताल बनवा दिया। एक हादसे में बेटे को खोने वाले पिता हेमेन्द्र पाटीदार कहते हैं कि अब अस्पताल खुलने से गांव में किसी का भी बेटा इलाज के अभाव में उससे जुदा नहीं होगा। किसान हेमेन्द्र पाटीदार की इस अनूठी पहल से गांववाले भी बेहद खुश हैं।

 

death_02.png

बेटे की याद में बनवा दिया अस्पताल
धराड़ गांव के रहने वाले हेमेन्द्र पाटीदार के 20 साल के बेटे शिवम की दो साल पहले एक दुर्घटना में मौत हो गई थी। शिवम पुणे में पढ़ाई करता था और छुट्टियों में अपने गांव आया हुआ था। बेटे के लिए पिता ने नई बाइक खरीदी थी और उसी बाइक को चलाते वक्त शिवम एक हादसे का शिकार हो गया था। गंभीर हालत में उसे रतलाम जिला अस्पताल ले जाया गया था लेकिन तब तक देर हो चुकी थी और इलाज के दौरान शिवम की मौत हो गई थी। तब डॉक्टरों ने कहा था कि अगर शिवम को गांव में ही प्राथमिक उपचार मिल जाता तो शायद उसकी जान बच सकती थी। इस घटना के बाद शिवम के पिता हेमेन्द्र पाटीदार ने तय किया था कि वो गांव में अस्पताल बनवाएंगे जिससे प्राथमिक इलाज गांव में ही लोगों को मिल पाए और प्राथमिक इलाज के अभाव में किसी को भी अपनों को न खोना पड़े।

death_03_1.png

बेटे की पुण्यतिथि पर बनवाया 10 बेड का अस्पताल
दिवंगत बेटे की याद में अब पिता हेमेन्द्र ने धराड़ गांव में करीब 4 लाख रुपए की लागत से 10 बेड का अस्पताल बनवा दिया है। इस अस्पताल में प्राथमिक उपचार की सभी सुविधाएं हैं। बेटे की पुण्यतिथि पर ही अस्पताल का शुभारंभ कर उसे गांव को भी समर्पित कर दिया गया है जिससे गांव वाले भी काफी खुश है। बेटे की याद में पिता की ओर से की गई इस पहल की पूरे जिले में जमकर तारीफ हो रही है।

 

देखें वीडियो- अलविदा- 2020, राज्यों से पैदल चलकर पहुंचे मजदूर

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned