...जाने आज क्यों लगता विरूपाक्ष महादेव बिलपांक पर भक्तों का जमघट

harinath dwivedi

Publish: Feb, 15 2018 12:50:18 PM (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
...जाने आज क्यों लगता विरूपाक्ष महादेव बिलपांक पर भक्तों का जमघट

५०६ बच्चों को हुआ अब तक मंदिर पर तुलादान, आज २५० सेवादार संभालेंगे व्यवस्था, नि:संतान युवतियों को बटेंगी खीर प्रसादी


रतलाम। जन-जन की आस्था का केंद्र बन चुके बिलपांक के प्राचीन विरूपाक्ष महादेव मंदिर पर महाशिवरात्रि उत्सव की महिमा अलग ही है। अमावस्या पर हजारों की संख्या में भक्तों का जमघट लग रहा है, तो नि:संतान दम्पत्तियों की मुराद पूरी होती है तो आस्थावान भक्त जिले सहित उत्तरप्रदेश, राजस्थान, दिल्ली सहित अन्य प्रदेशों से भी बड़ी संख्या में पहुंचकर भुतभावन भगवान विरूपाक्ष के दर्शन वंदन पूजन कर प्रसादी लाभ लेते है। यहां की एक अनूठी परम्परा पांच दिवसीय पुत्र कामेष्ठि यज्ञ के तप कर तैयार हो रही खीर प्रसादी को ग्रहण करने के लिए १५ फरवरी को सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु महिलाएं मंदिर पहुंच रही है। ५०-६० हजार भक्तों में नुगदी प्रसादी व मिठाई, मखाना का वितरण किया जाएगा। बुधवार सुबह से शाम तक हजारों की संख्या में भक्त मंदिर पहुंच चुके हैं, जिसमें वृद्ध, युवा महिला-पुरुष और बच्चे भी शामिल है।

विरूपाक्ष महादेव भक्त मंडल के अशोक पाटीदार ने बताया कि साल दर साल मंदिर पर भक्तों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस साल करीब ६० हजार श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है, बुधवार शाम तक हजारों की संख्या में श्रद्धालु मंदिर पहुंच चुके है। भक्तों के साथ अनुशासनमय वातावरण में ग्रामीण भी कतार में खड़े होकर दर्शन के लिए शामिल हो रहे हैं। ऐसा ही उदारहण आज १०५ वर्षीय नंदराम जाट ने पेश किया। विरूपाक्ष महादेव मंदिर पर पिछले साल जिन माताओं ने खीर ग्रहण की थी, उनमें से बुधवार शाम तक मन्नतअनुसार ५०६ माताओं ने मंदिर पहुंचकर बच्चों को तुलादान किया।

 

नि:संतान माता को मिलेगी १ चम्मच खीर
भक्त मंडल के सदस्यों के अनुसार केवल नि:संतान माताओं के लिए यज्ञ में तैयार की जा रही खीर से १०० किलो बनाई जाएगी। इसमें हर महिला को एक-एक चम्मच खीर का वितरण किया जाएगा। मंदिर से मिली जानकारी के अनुसार ५ हजार से अधिक महिलाओं को खीर का वितरण किया जाएगा। दर्शनार्थ आने वाले भक्तों के लिए ६ बोरी शक्कर से भक्तों के लिए नुगदी की प्रसादी भी तैयार की जा रही है। भक्त पहुंच रहे भक्तों लिए ग्रामीणों द्वारा भोजन और धर्मशाला के साथ मंदिरों पर ठहरने की व्यवस्था की जा रही है। ७-८ से चांदी के छत्र श्रद्धालुओं ने अर्पित किए।

 

फेक्ट फाइल
- ६० हजार से अधिक श्रद्धालु आज पहुंचेंगे।
- १०० किलो खीर केवल नि:संतान महिलाओं को बटेंगे।
- १५ फरवरी को दो.२ बजे से बटेंगी प्रसादी।
- १५० से अधिक ग्रामीण सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे।
- ११३ पुलिसकर्मी भी संभालेंगे सुरक्षा व्यवस्था।
- ५० हजार शिवरात्रि ? पर दर्शनार्थ पहुंचे।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned