कोरोना संक्रमण : प्रदेश के बाहर से जिले में पहुंचे 50 हजार लोग, 1301 का लिया सैंपल

6 से अधिक संदिग्धों को केयर सेंटर में रखकर की जा रही निगरानी

By: Anil singh kushwah

Updated: 24 May 2020, 02:04 AM IST

रीवा. जिले में कोरोना के बढ़ते मरीजों को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी चिंता व्यक्त की है। सीएम की समीक्षा के बाद जिले के आला अफसर शनिवार को भ्रमण पर निकले। जिम्मेदारों को कंटेनमेंट में जांच करने सहित कड़ी निगरानी को निर्देश दिए। बताया गया कि जिले में प्रदेश के बाहर से आए 50 हजार लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी है। जिला अस्पताल में 1301 कोरोना संदिग्धों का सेंपल लेकर जांच कराया गया है। अब तक 30 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जबकि 60 से अधिक गंभीर संदिग्धों को कोविड-19 केयर सेंटर में रखा गया है। सीएमएचओ डॉ. आरएस पांडेय ने बताया कि शनिवार को २२ संदिग्धों का जांच सैंपल लैब भेजा गया है। शाम तक 7 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिले में अब तक 1301 संदिग्धों का सैंपल लिया जा चुका है। जिसमें से 1066 की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। 182 की रिपोर्ट अभी आना बाकी है। उधर, ग्रामीण क्षेत्र में बनाए गए कंटेनमेंट में लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। जिले में अब तक 13 कंटेनमेंट एरिया बनाए गए हैं। लगभग 15 हजार लोगों का सर्वे होना है।

कमिश्नर ने कंटेनमेंट अतरैला का किया निरीक्षण
संभागायुक्त अशोक कुमार भार्गव ने कंटेनमेंट एरिया अतरैला का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट एरिया में बचाव के सभी प्रभावी उपाय करें। कंटेनमेंट से किसी को बाहर जाने की अनुमति नहीं है। इसके अंदर रहने वाले व्यक्ति भी अपने घरों में ही रहें। एसडीएम तथा बीएमओ कंटेनमेंट एरिया का घर-घर सर्वेक्षण कराकर सर्दी, खांसी तथा बुखार से पीडि़तों का उचित उपचार कराएं। दस वर्ष से कम आयु के बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की विशेष देखभाल करें। बुजुर्गों पर भी विशेष ध्यान दें।

कलेक्टर कंटेनमेंट पटना गांव पहुंचे
कलेक्टर बसंत कुर्रे और जिला पंचायत सीईओ अर्पित वर्मा ने शनिवार को कंटेनमेंट एरिया पटना का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने राजस्व व पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कंटेनमेंट एरिया में अंदर बिना अनुमति किसी व्यक्ति को प्रवेश न दें। कोरोना से बचाव के लिए मुनादी कराकर घर-घर जानकारी लें। गांव में वापस लौट रहे सभी व्यक्तियों तथा प्रवासी मजदूरों के स्वास्थ्य की अनिवार्य रूप से जांच करायें। इन्हें 14 दिन तक क्वारंटीन रखने की भी व्यवस्था करें। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए कर्मचारी तैनात कर दें। मौके पर एसडीएम सिरमौर संजीव पाण्डेय, सीईओ सुचिता सिंह, बीएमओ तथा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned