Court News : बालिका से बलात्कार, छह साल बाद आरोपी को 25 साल की सजा

महिमा कछवाहा विशेष न्यायाधीश पॉक्सो न्यायालय रीवा ने सुनाई कठोर कारावास की सजा, चार हजार का लगाया जुर्माना

By: Rajesh Patel

Published: 31 Jul 2021, 09:40 PM IST

रीवा. आवस्यक बालिका से बलात्कार के छह साल बाद आरोपी को कोर्ट ने 25 साल की कठोर सजा सुनवाई है। विशेष न्यायाधीश (पाक्सो) महिमा कछवाहा ने सुनवाई के दौरान बलात्कार के आरोपी राहुल उर्फ अनुराग (22) पिता महेन्द्र ङ्क्षसह को दोषी पाए जाने पर पचीस साल का कठोर कारावास किया है। इस दौरान विशेष न्यायाधीश ने आरोपी पर कठोर कारावास के साथ ही चार हजार का जुर्माना की है। आरोपी इलाहाबाद के लेडिय़ारी गांव का निवासी है।

दरवाजे को धक्का देकर अंदर घुस आया
एडीपीओ अफजल खान के मुताबिक वर्ष 2015 की शाम करीब बजे बजे पीडि़त अवयस्क बालिक अपने दादा व दादी के साथ अपने स्वयं के निवास में टीवी देख रही थी। उसी समय अभियुक्त राहुल उर्फ अनुराग चार पहिया वाहन मे चार-पांच लडको के साथ बाउण्ड्रीबाल कूदकर कमरे के दरवाजे को धक्का देकर अंदर घुस आया। बालिका को जबरदस्ती पकडक़र अपने साथ ले जाने लगा। तब परियादी एवं उसकी पत्नी द्वारा रोकने का प्रयास किया गया। लेकिन, आरोपी ने कट्टा दिखाकर जान से मारने की धमकी देते हुए घर का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। बालिका को अपने साथ जबरन लेकर भाग गया बालिका के दादा यानी फरियादी ने घटना की रिपोर्ट थाना विश्वविद्यालय में लिखवाई।

बालिका को इलाहाबाद से बरामद किया

पुलिस ने विवेचना के दौरान बालिका को आरोपी राहुल उर्फ अनुराग के गांव लोडिय़ारी इलाहाबाद से बरामद किया। पुलिस ने विवेचना के दौरान अभियोग पत्र न्यायालय मे पेश किया गया। छह साल बाद मामले की सुनवाई विशेष न्यायाधीश पॉक्सो रीवा के यहां सुनवाई के दौरान सक्ष्य प्रतुत किए गए। सुनाई के दौरान शासन की ओर से पैरवी कर रहे विोष लोक अभियोजक रवीन ङ्क्षसह ने साक्ष्य के तहत तर्क दिया। सुनवाई के दौरान विशेष न्यायाधीश ने विभिन्न धराओं में आरोपी राहुल उर्फ अनुराग पर अववयस्क बालिका से बलात्कार के आरोप में 25 साल की कठोर कारवास की सुजा सुनाते हुए अर्थदंड किया है।

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned