तीन महीने बाद खुला चिडिय़ाघर, बड़ी संख्या में पहुंचे पर्यटक

- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पर्यटकों को दिलाया गया प्रवेश

By: Mrigendra Singh

Published: 29 Jun 2020, 10:49 PM IST


रीवा। महाराजा मार्तण्ड सिंह जूदेव चिडिय़ाघर एवं ह्वाइट टाइगर सफारी मुकुंदपुर आम पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। लॉकडाउन की वजह से लगातार तीन महीने से यह बंद चल रहा था। बीते करीब दो सप्ताह से इसे खोलने को लेकर तैयारियां की जा रही थी। अधिकारियों ने हर स्तर पर समीक्षा के बाद खोलने का निर्णय लिया है। कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार चिडिय़ाघर परिसर की तैयारियां अलग तरह की नजर आईं।

चिडिय़ाघर प्रशासन ने सूचना बोर्ड मुख्य गेट के पहले ही लगा रखा है, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, चेहरे पर मास्क लगाने आदि की चेतावनी दी गई है। चिडिय़ाघर ने अपने कर्मचारियों को एहतियात के तौर पर सुरक्षा के संसाधन उपलब्ध कराएं हैं ताकि टिकट जांच करते समय या फिर अन्य संपर्क के दौरान किसी तरह का संक्रमण नहीं फैले।

पहले दिन सुबह नौ बजे से सायं पांच बजे तक के मध्य ४४३ पर्यटक पहुंचे। लंबे समय से बंद होने की वजह से अब भी दूर के पर्यटकों को सूचना नहीं मिल पाई है। माना जा रहा है कि धीरे-धीरे संख्या में वृद्धि होगी। बताया गया है कि चिडिय़ाघर प्रबंधन ने पर्यटकों की सुविधा के लिए और कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए जागरुकता संदेश के साथ ही व्यवस्थाएं भी उपलब्ध कराई हैं।

- थर्मल स्क्रीनिंग की भी कराई व्यवस्था
परिसर में प्रवेश करने से पहले चिडिय़ाघर प्रबंधन की ओर से थर्मल स्क्रीनिंग की भी व्यवस्था की गई है। सभी पर्यटकों के शरीर का तापमान मापने के बाद ही भीतर जाने की अनुमति दी जा रही है। यह प्रक्रिया आगे भी चलती रहेगी।

- विजिटर गैलरी में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाए गोले
चिडिय़ाघर में प्रवेश से पहले टिकट काउंटर के बाहर और जानवरों के बाड़ों की विजिटर गैलरी में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए चूने से गोले बनाए गए हैं। ताकि लोग इसी में खड़े रहकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर सकें। इसके अलावा परिसर में अन्य कई जगह पर सूचनाएं चस्पा की गई हैं कि लोग मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं, सेनेटाइजर का उपयोग करें और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें।

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned