MPPSC : पहली पॉली में 10 फीसदी से अधिक अभ्यर्थियों ने छोड़ी परीक्षा

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की राज्य सेवा तथा वन सेवा की प्रारंभिक परीक्षा रविवार की सुबह कड़ाके की ठंड में कड़े पहरे के बीच शुरू हुई

By: Rajesh Patel

Updated: 12 Jan 2020, 12:27 PM IST

रीवा. मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की राज्य सेवा तथा वन सेवा की प्रारंभिक परीक्षा रविवार की सुबह कड़ाके की ठंड में कड़े पहरे के बीच शुरू हुई। ठंड की वजह से कइयो जगहों पर परीक्षार्थी देर से पहुंचे। पहली पॉली की परीक्षा शांतपूर्ण रही। जेपी रोड पर स्थित सरदार पटेल, एग्री कल्चर अािद कालेजों में 10 फीसदी परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। इस तरह से पहली पॉली में एक हजार से ज्यादा छात्र अनुपस्थित रहे।

जिला प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किया है। आयोग के द्वारा १२ जनवरी को वर्ष 2019 के लिए प्रारंभिक परीक्षा के लिए शहर में 23 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। जिसमें 10,750 परीक्षार्थी शामिल होंगे। यह परीक्षा दो पॉली में आयोजित होगी। पहली पॉली में प्रात: 10 बजे से 12 बजे तक एवं दूसरी पॉली की परीक्षा दोपहर 2.15 बजे से शाम 4.15 बजे तक की जा रही है।

केन्द्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
अपर कलेक्टर इला तिवारी ने बताया कि परीक्षा की निगरानी के लिए अधिकारी तैनात कर दिए गए हैं। सभी परीक्षा केन्द्रों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच परीक्षा संपन्न कराई जाएगी। उन्होंने सभी परीक्षार्थियों से लोक सेवा आयोग गकी गाइड लाइन पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

केन्द्रों पर यह रहेगा प्रतिबंध
परीक्षा केन्द्र में किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक यंत्र का उपयोग रोकने के लिए परीक्षा कक्ष में जूते-मोजे पहन कर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षार्थी चप्पल अथवा सैन्डिल पहन कर आ सकते हैं। चेहरे को ढककर परीक्षा केन्द्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षार्थी बालों को बांधने के लिए क्लचर, बकल, घड़ी हाथ में पहने जाने वाले बैंड, पर्स, टोपी आदि का भी उपयोग नहीं कर सकेंगे। सिर, नाक, कान, गला, हाथ,पैर, कमर आदि में पहने जाने वाले कोई भी आभूषण तथा रक्षासूत्र की भी सूक्ष्मता से जांच की जाएगी।

महिला अभ्यर्थियों की जांच के भी इंतजाम
परीक्षार्थियों के सामान को सुरक्षित रखने के लिए परीक्षा केन्द्र में पृथक से व्यवस्था की जाएगी। सभी परीक्षार्थियों की तलाशी लेने के बाद ही उन्हें परीक्षा कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा। महिला परीक्षार्थियों की जांच गरिमापूर्ण तरीके से महिला अधिकारियों द्वारा की जाएगी।

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned