scriptMurder case registered against five people including three policemen | तीन पुलिसकर्मी समेत पांच के खिलाफ दर्ज हुआ हत्या का मामला | Patrika News

तीन पुलिसकर्मी समेत पांच के खिलाफ दर्ज हुआ हत्या का मामला

locationरीवाPublished: Dec 19, 2023 07:24:52 pm

Submitted by:

Shivshankar pandey

सिविल लाइन थाने में पुलिस अभिरक्षा में हुई थी महिला की मौत, पूरे मामले की चल रही न्यायिक जांच

patrika
Murder case registered against five people including three policemen
रीवा। पुलिस अभिरक्षा में महिला की मौत के मामले में तीन पुलिसकर्मियों समेत पांच के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस ने यह कार्रवाई की है। पूरे मामले की न्यायिक जांच भी चल रही है। कार्रवाई से पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।
चोरी के मामले में गिरफ्तार हुई थी महिला
सिविल लाइन थाने में चोरी के मामले में महिला राजकली केवट पति पारसनाथ 53 वर्ष निवासी शिकारगंज थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी को सिविल लाइन थाने लाया गया था। 30 अक्टूबर की रात ही महिला की हालत बिगड़ गई जिस पर पुलिसकर्मियों ने उसको अस्पताल पहुंचाया जहां उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। इस मामले में पुलिसकर्मियों पर मारपीट का आरोप परिजनों ने लगाया था। पुलिस ने अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करवाया जिसमें महिला के साथ मारपीट की पुष्टि हुई है। शरीर के कई स्थानों पर चोट के निशान थे। महिला की मौत की वजह कई चोटों के कारण सदमे से रक्तस्त्राव होने का लेख किया गया।
थाने में पुलिसकर्मियों ने की मारपीट
महिला के साथ थाने में मारपीट करने की जानकारी प्रारंभिक जांच में सामने आई है। इसके अतिरिक्त चोरी के फरियादी ने भी महिला की पिटाई की थी। यही कारण है कि शरीर में चोट की वजह से महिला की मौत हो गई। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है। आरोपियों में प्रधान आरक्षक विवेक सिंह, एएसआई कौशलेन्द्र प्रसाद शुक्ला, महिला आरक्षक खुशबू तिवारी, फरियादी प्रतीक्षा सिंह सेंगर, पति यशोवर्धन सिंह सेंगर शामिल है। इस पूरे मामले की न्यायिक जांच अभी चल रही है। कार्रवाई से पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।
ये था पूरा मामला
सिविल लाइन थाने के पद्मधर कालोनी में रहने वाली प्रतीक्षा सिंह के घर में आरोपी महिला राजकली केवट काम करती थी। 28 अक्टूबर की दोपहर ढाई बजे से लेकर शाम साढ़े चार बजे के बीच उनके घर से जेवर चोरी हो गए थे जिसमें कंगन, चेन, अंगूठी, मंगलसूत्र शामिल थे। जानकारी होने पर फरियादी महिला व उसके पति ने नौकरानी से चोरी के गहनों के संबंध में पूछताछ की और मारपीट की। 30 अक्टूबर को इसकी सूचना डायल 100 केा दी गई तो डायल 100 आरोपी महिला के साथ फरियादी को भी थाने लेकर आई। थाने में भी महिला के साथ पुलिसकर्मियों ने प्लास्टिक के पाइप और हांथ से मारपीट की जिसकी वजह से उसको चोटे आई थी।
थाने के सीसीटीवी फुटेज जब्त कर कराई जा रही जांच
इस पूरे मामले की सत्यता का पता लगाने के लिए थाने के सीसीटीवी फुटेज जब्त कर लिये गये है जिसके आधार पर जांच की जा रही है। फुटेज के मुताबिक 30 अक्टूबर को 10:16 बजे रात महिला को थाने लाया गया था। उसके बाद गहनों की बरामदगी के लिए उसे शिकारगंज और पडऱा ले जाया गया था। उसके बाद वापस लाया गया। तबियत बिगडऩे के बाद रात करीब 12:10 मिनट में महिला को अस्पताल ले जाया गया था जहां उनकी मौत हो गई।
००००

ट्रेंडिंग वीडियो