जिले के मंडियों में अब होगा सिर्फ थोक कारोबार, ठेलों में बिकेगी फुटकर में सब्जियां

पुलिस ने सुबह 10बजे बंद कराई सब्जी मंडी, व्यापारियों ने भी दिया सहयोग

रीवा. कोरोना के संक्रमण को देखते हुए पुलिस विभाग ने सब्जी मंडी को बंद करवा दिया। सिर्फ थोक में बिक्री हुई, जबकि फुटकर में सब्जी ठेलों में बिकेगी। प्रशासन के इस प्रयास का व्यापारियों ने भी समर्थन किया। बुधवार को सब्जी मंडी में सुबह 6 बजे से लेकर थोक बिक्री शुरू हुई थी। थोक में व्यापारियों ने सब्जी खरीदी और दस बजे तक पुलिस ने पूरी मंडी को बंद करवा दिया। मंडी के अंदर फुटकर बिक्री पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।

सब्जियों के भाव बढ़े

सब्जी आपूर्ति के लिए प्रशासन ने ठेलों के माध्यम से बिक्री की व्यवस्था बनाई है। ठेले वाले मोहल्ले-मोहल्ले घूमकर सब्जी की बिक्री करेंगे। दरअसल, सब्जी मंडी में फुटकर बिक्री से भीड़ एकत्र हो जाती थी जिसकी वजह से कोरोना के फैलने खतरा बढ़ गया था। इसे देखते हुए प्रशासन ने एहतियाती कदम उठाया है जिसके मद्देनजर फुटकर बिक्री मंडी के अंदर पूरी तरह बंद करवा दी गई है। किसान मंडी में सब्जी लाकर व्यापारियों को बेचेगा जिसकी वे थोक में बिक्री करवाएंगे। दिनभर मंडी में पसरा रहा सन्नाटा दस बजे के बाद सब्जी मंडी बंद होने से दिनभर सन्नाटा रहा। मंडी के अंदर तमाम दुकानें बंद हो गई थी। इक्का-दुक्का दुकानों को छोड़कर पूरी मंडी में सन्नाटा पसरा था। अहतियात के तौर पर पुलिस गश्त कर रही थी। सीएसपी ने कहा शिवेन्द्र सिंह ने कहा कि सब्जी मंडी में फुटकर बिक्री पर रोक लगा दी गई है। थोक बिक्री के बाद मंडी को बंद करवा दिया गया है। ठेलों में सब्जी मोहल्लों में वितरित होगी।

जमाखोरी से बढे दाम
जमाखोरी के चलते शहर में सब्जियों के दाम गढ़ गए हैं। बताया गया कि बाहर से आपूर्ति कम हो गई है, जिले के किसानों द्वारा ही मांग की पूर्ति की जा रही है जिससे किल्लत हो गई है। जानकारों की माने तो जैसे-जैसे सब्जी की किल्लत बढ़ेगी वैसे-वैसे दाम भी बढ़ जाएंगे।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned